रोजगार का झूठा आंकड़ा पेश कर रही है योगी सरकार: सुनील मौर्य

155
Yogi government is presenting false employment figures: Sunil Maurya
दलितों, आदिवासियों, महिलाओं, अल्पसंख्यकों और गरीबों का जीना दूभर है. योगी की सरपरस्ती में पुलिस-गुंडा राज चल रहा है.

देवरिया । उत्तर प्रदेश छात्र युवा रोजगार अधिकार मोर्चा के बैनर पर रोजगार अधिकार सम्मेलन नोनार कपरदहा भाटपार रानी देवरिया में संपन्न हुआ, आंकड़ों में मत उलझाओ, रोजगार कहां है ये बतलाओ नारे के साथ शुरू हुआ सम्मेलन प्रमुख रूप से उत्तर प्रदेश में खाली पड़े 25 लाख पदों को भरने एव हर जिले में कारखाना चालू कर रोजगार देने की मांग के साथ साथ 69000 हजार शिक्षक भर्ती में समुचित आरक्षण लागू करने की मांग की।

सम्मलेन को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता, बिहार विधानसभा के सदस्य व् इंकलाबी नौजवान सभा के सम्मानित राष्टीय अध्यक्ष अमरजीत कुशवाहा ने कहा उत्तर प्रदेश में जब सब योगी की सरकार आयी है प्रदेश में रोजगार मांगने पर युवाओं को पुलिस की लाठी मिल रही है. आशा, आंगनबाड़ी, रसोइया, शिक्षा मित्रों और स्कीम वर्करों की मांगों की लगातार अनदेखी की जा रही है. नफरत की राजनीति, दबंगई को सत्ता संरक्षण, पुलिस को ठांय-ठांय करने की छूट और जन आंदोलनों पर दमन ने लोकतंत्र को तहस-नहस कर दिया है। दलितों, आदिवासियों, महिलाओं, अल्पसंख्यकों और गरीबों का जीना दूभर है. योगी की सरपरस्ती में पुलिस-गुंडा राज चल रहा है. ऐसे में कानून और सविधान का राज व रोज़गार का अधिकार तभी होगा जब भाजपा और योगी सत्ता से बेदखल होंगे।

सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए, उत्तर प्रदेश छात्र युवा रोजगार अधिकार मोर्चा के संयोजक सुनील मौर्य में कहा देश एव प्रदेश एक साथ कई चुनौतियों का सामना कर रहा है। 04 साल में फार्म निकालकर चार लाख रोजगार भी न दे पाने वाली योगी सरकार प्रचार इतना जोर शोर से कर रही है मानो सभी नौजवानों को रोजगार मिल गया हो। रोजगार तो मिला नहीं, दलित पिछड़ों को मिल रहा आरक्षण भी समुचित तरीके से लागू न करके खत्म करने की साजिश ही दिखाई दे रही है। उत्तर प्रदेश नंबर 01 का विज्ञापन देशभर में चलाया जा रहा है जबकि बेरोजगारी व स्वास्थ्य व्यवस्था की बदहाल स्थिति किसी से छिपी नहीं है।

माता बनी कुमाता: डेढ़ साल के बच्चे को पानी की टंकी में डुबोकर दी दर्दनाक मौत

एआईडीवाईओ के प्रदेश सचिव व्उत्तर प्रदेश मोर्चा संयोजन समिति सदस्य मकरध्वज ने कहा उत्तर प्रदेश में बेरोजगारी, महंगाई,अशिक्षा, बदहाल स्वास्थ्य, कृषि संकट व दमन झेल रही जनता की संकट को हल करने के बजाय सरकार और बढ़ाने के ही काम कर रही है, सरकार के इस जन विरोधी युवा विरोधी नीतियों के ख़िलाफ़ युवा आंदोलन को तेज करने के लिए उत्तर प्रदेश छात्र युवा रोजगार अधिकार मोर्चा का गठन किया गया है जो रोजगार के सवाल पर प्रदेश व्यापी आंदोलन को तेज करेगा।

एक्टू नेता प्रेमलता पांडेय ने सम्मेलन को सम्बोधित करते हुए कहा की नौजवानों की यह पहल उत्तर प्रदेश में नए आंदोलन और नए सम्भवना को जन्म देगा, देवरिया के चर्चित मजदूर नेता रामकिशोर वर्मा ने कहा सरकार चौतरफा किसानों नौजवानों महिलाओं दलितों का हक छीन रही है। इसके ख़िलाफ़ मिलकर संगठित आंदोलन तेज करना होगा नौजवानों की इस पहल पूरा समाज भरपूर समर्थन देगा।

सम्मलेन को पूर्व शिक्षक मुर्तुजा अली, सम्बोधित किया, सम्मेलन का संचालन श्री राम कुशवाहा ने किया व अध्यक्षता ग्राम प्रधान रमेश कुशवाहा ने किया सम्मलेन में गुडडू, नितेश कुशवाहा, विकास यादव, गयासुद्दीन अंसारी, अभय यादव, बृजेश पासवान, मुकेश कुमार, कृष्णा कुशवाहा, रामधन कुशवाहा, अमरनाथ गुण, अमरजीत पासवान, सोनू, दुर्गेश कुशवाहा, विपुल गौड़, प्रभुनाथ पासवान, कमलेश कुशवाहा, डॉक्टर राम प्रसाद कुशवाहा, अमरेश कुशवाहा, पूनम यादव, सुनील कुशवाहा, प्रेम सिंह पटेल, विपिन पटेल, रमेश पासवान, बनारसी पासवान, छोटे लाल कुशवाहा, राधा किशन सिंह, जलेसर पटेल, अरविंद पटेल, सहदेव चौहान, श्रवण कुशवाहा, लाल बाबू सिंह, अरुण कुमार, शाह इजराइल, अंसारी अशफाक, अंसारी रामसेवक ठाकुर इत्यादि लोग उपस्थित रहे।

युवक ने पत्नी के प्रेमी की हत्या कर शव गटर में बहाया, पुलिस ने इस तरह सुलझाई हत्या की गुत्थी

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here