Wednesday, October 5, 2022
Homeउत्तर प्रदेशवाराणसी:पीएम मोदी ने किया सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना का उद्घाटन, बोले-अब गरीब...

वाराणसी:पीएम मोदी ने किया सबसे बड़ी स्वास्थ्य योजना का उद्घाटन, बोले-अब गरीब के बच्चे भी बनेंगे डॉक्टर

वाराणसी। पीएम मोदी अपने संसदीय क्षेत्र में सोमवार को डेढ़ घंटे रहे, इस दौरान पीएम जनता से रूबरू हुए। यूपी में होने वाले विधा​नसभा चुनाव के मद्देनजर लगातार प्रदेश के विकास को गति देने वाली योजनाओं को पंख दिया जा रहा है। सोमवार को पीएम ने यूपी के नौ राजकीय मेडिकल कॉलेज के साथ ही पूर्वांचल को मॉडल बनाने के लिए 28 परियोजनाओं का लोकापर्ण किया।पीएम ने अपनी बात रखते हुए कहा कि मेडिकल कॉलेजों की संख्या बढ़ने से गरीबों को इलाज तो गरीब के बच्चों को डॉक्टर बनने का अवसर मिलेगा।

इस दौरान जनता से संवाद करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज से गरीब बच्चों को फायदा होगा। देश ने कोरोना महामारी से अपनी लड़ाई में 100 करोड़ वैक्सीन डोज के बड़े पड़ाव को पूरा किया है। पीएम मोदी ने संबोधित करते हुए सीएम योगी की तारीफ की। इसके बाद समाजवादी पार्टी पर हमला बोला। पीएम ने जनता से त्योहार पर लोकल प्रोडक्ट की खरीदी पर जोर दिया।पीएम मोदी ने कहा कि बीते सालों की एक और बड़ी उपलब्धि अगर काशी की रही है, तो वो है बीएचयू का फिर से दुनिया में श्रेष्ठता की तरफ अग्रसर होना। आज टेक्नॉलॉजी से लेकर हेल्थ तक, बीएचयू में अभूतपूर्व सुविधाएं तैयार हो रही हैं।

रिंग रोड बनने से सफर हुआ आसान

वाराणसी में कराए गए विकास का भी पीएम मोदी ने जिक्र करते हुए कहा कि वाराणसी में पिछले सात साल में जितना विकास कराया गया है,उतना पिछले कई दशकों में भी नहीं हुआ। रिंग रोड के अभाव में काशी में जाम की क्या स्थिति होती थी, इसे आपने वर्षों तक अनुभव किया है। अब रिंग रोड बनने से प्रयागराज, लखनऊ, सुलतानपुर, गोरखपुर, दिल्ली कहीं भी जाना हो तो उसके लिए शहर में नहीं आना पड़ेगा।

 

पीएम ने कहा कि हमसे पहले जो सरकारे में रहे, उनके लिए स्वास्थ्य सेवा पैसा कमाने, घोटालों का जरिया रही है। गरीब की परेशानी देखकर भी, वो उनसे दूर भागते रहे। आज केंद्र और राज्य में वो सरकार है जो गरीब, दलित, शोषित-वंचित, पिछड़े, मध्यम वर्ग, सभी का दर्द समझती है। देश में स्वास्थ्य सुविधाएं बेहतर करने के लिए हम दिन रात एक कर रहे हैं।
देश में 80 वायरल डायग्नोस्टिक लैब हैं और इनको और सशक्त बनाया जाएगा। आयुष्मान भारत योजना ने दो करोड़ से अधिक गरीबों का अस्पताल में मुफ्त इलाज भी करवाया है। इलाज से जुड़ी अनेक परेशानियों को आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के जरिए हल किया जा रहा है।

24 घंटे चलने वाले इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर तैयार होंगे

पीएम मोदी ने कहा कि आने वाले चार-पांच सालों में गांव तक क्रिटिकल केयर यूनिट को सशक्त किया जाए, जिन राज्यों में स्थितियां खराब हैं वहां पर ज्यादा फोकस किया जा रहा है। गांव और शहरों में हेल्थ और वेलनेस सेंटर खोले जा रहे हैं। समय से बीमारियों का पता चलेगा तो इलाज में आसानी होगी। राष्ट्रीय स्तर पर 12 केंद्रीय अस्पतालों में योजना तैयार की जा रही है। 24 घंटे चलने वाले इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर तैयार किए जाएंगे।

पीएम ने पूर्व की सरकारों को घेरा

देश के स्वास्थ क्षेत्र में में पिछड़ने के लिए पूर्व की सरकारों को घेरा। कहा कि पहले की सरकारों ने हेल्थ केयर सिस्टम के लिए कुछ नहीं किया। गरीब और मध्ययम आय वर्ग के लोगों के लिए अच्छी स्वास्थय व्यवस्था काफी मुशिकल से मिलता है। लझय ये है कि आने वर्षों में गांव से लेकर महानगर तक क्रिटिकल केयर को सुदृढ किया जाए। पहाड़ और पूर्वोत्तर के राज्यों पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है।

इसे भी पढ़ें…

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments