केवल एक ही नायका हो सकती है, और वह है आप

223
There can only be one hero, and that's you
नायका अपनी शुरुआत से ही ऐसी महिलाओं के प्रति आदर व्यक्त करने के तरीके खोजता आया है, जो अपनी ज़िंदगी की कमान खुद संभाल रही है।

लखनऊ।‘कहानी कोई भी हो, तुम ही हो नायका’, नायका की नई ब्रांड फिल्म के आ​खिरी में कही गई यह पंक्तियां हर महिला को याद दिलाती है, कि इस दुनिया में उसकी एक खास जगह है, जिसे उसे हमेशा सेलेब्रेट करना चाहिए। नायका अपनी शुरुआत से ही ऐसी महिलाओं के प्रति आदर व्यक्त करने के तरीके खोजता आया है, जो अपनी ज़िंदगी की कमान खुद संभाल रही है।

6 प्रेरणादायी कहानियां

नायका इन महिलाओं का उत्साह बढ़ाने और उनके लिए आवाज उठाने की लगातार कोशिश करता है। अपने नए टीवी शो के जरिए नायका ने ऐसी 6 प्रेरणादायी कहानियों को बेहद खूबसूरत तरीके से कविता के जरिए बयां किया है। इस फिल्म के जरिए नायका महिलाओं के उस अदम्य धीरज और शांत रहकर लिए गए संकल्प की सराहना करता है, जो आमतौर पर महिलाओं के लिए सहज होता है।

अपनी अनूठी कहानी की नायका के रूप में, फिल्म में प्रत्येक महिला अपने लक्ष्य तक पहुंचने के लिए कई तरह की चुनौतियों का सामना करती है। इस फिल्म में हमें एक एसटीईएम उद्यमी, एक बाइक स्टंटवुमन, एक पर्वतारोही मां, एक हिजाबी रैपर, एक ट्रांसजेंडर डॉक्टर और अपनी आधी जिंदगी पार करने के बाद चैस मास्टर बनी महिला के जीवन की एक खूबसूरत झलक दिखाई देती है, जो उनके कठिन परिश्रम, इच्छाशक्ति और धैर्य की कहानी बयां करती है। ये सभी महिलाएं अलग-अलग क्षेत्रों से है पर अपने सपनों को पूरा करने के प्रति इनका दृढ़ संकल्प इन्हें एक सूत्र में पिरोता है।

इस फिल्म की हर फ्रेम आपको अपने दिल की आवाज सुनने के लिए प्रेरित करती है और पूरे विश्वास के साथ यह बात कहती है कि ‘जब आपकी कहानी की बात आती है, तो केवल एक ही नायका हो सकती है- और वह है आप।’ इस शक्तिशाली वाक्य के साथ ही ब्रांड नायका का सार जुड़ा है – सूक्ष्म पर सार्थक, शारीरिक अभिव्यक्ति से परे खूबसूरती में बड़ा बदलाव लाने की ताकत है। इस फिल्म के बारे में नायका में ग्रुप सीएमओ शालिनी राघवन कहती हैं, “हमें हर उस महिला की कहानी को बताने और सेलेब्रेट करने की जरूरत है, जो ना सिर्फ सपने देखती है बल्कि उन्हें अपने दम पर पूरा करने का साहस और क्षमता भी रखती है।

हम हर चुनौतीपूर्ण यात्रा में उनके साथ है

एक महिला खुद को कैसे अभिव्यक्त करती है यह वह अपने दिल की आवाज को सुनकर तय कर सकती है और नायका में हम हर चुनौतीपूर्ण यात्रा में उनके साथ है। इस फिल्म के माध्यम से हम हर महिला को उसकी अपनी कहानी की नायका बनने के लिए प्रेरित करने की अपनी प्रतिबद्धता को दोहराते हैं ‘तुम ही हो नायका’ को गुड मॉर्निंग फिल्म्स के शशांक चतुर्वेदी ने डायरेक्ट किया है। इस फिल्म का कांसेप्ट अभिजीत अवस्थी और टीम साइडवेज का है। अपनी शानदार आवाज के जरिए इला अरुण ने इसमें जान डाल दी है। फिल्म के सिनेमैटोग्राफर प्रसिद्ध तेत्सुओ नगाटा हैं।
तुमही हो नायका 4 अक्टूबर से टीवी चैनलों और डिजिटल प्लेटफॉर्म पर प्रसारित किया जा रहा है और इसे यूट्यूब पर भी देखा जा सकता है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here