आगरा में तीन साल के बच्चे की चढ़ाई बलि, अरोपितों को तलाश रही पुलिस

604
A three-year-old child was sacrificed in Agra, police are searching for the accused
अभी बच्चे की शिनाख्त नहीं हो सकी है। मौके से तंत्र-मंत्र का सामान, फावड़ा और चाकू बरामद किया गया।

आगरा। उत्तर प्रदेश के आगरा जिले से एक ऐसी घटना सामने आई है, जिसे सुनकर किसी का भी कलेजा कांप जाएगा। यहां आगरा के थाना पिनाहट के गांव जोधपुर के बीहड़ में तीन साल के बच्चे की बलि चढ़ाने का मामला सामने आया है। ग्रामीणों की सूचना पर स्थानीय पुलिस ने एसपी की सख्ती के बाद मौके से पहुंचकर बच्चे का शव बरामद किया है। घटनास्थल को देखने के बाद साफ-साफ पता चल रहा है कि यहां बच्चे की बलि देने के बाद तंत्र-मत्र किया ​गया है। शनिवार रात पुलिस ने जंगल किनारे बने एक गड्ढे में दफन किए गए बच्चे का शव बरामद किया है। अभी बच्चे की शिनाख्त नहीं हो सकी है। मौके से तंत्र-मंत्र का सामान, फावड़ा और चाकू बरामद किया गया। पुलिस ने आसपास के थानों से गुमशुदगी के बारे में सूचना मांगी है।

तंत्र क्रिया करने वालों में एक महिला भी

ग्रामीणों ने बताया कि शनिवार सुबह ऑटो से चार लोग आए थे, उनके साथ एक महिला और एक बच्चा भी था। चारों लोग थाना पिनाहट के गांव जोधपुरा बीहड़ के किनारे गए। उनके पास थैलों में काफी समान था। उस वक्त लोगों ने ज्यादा ध्यान नहीं दिया। दोपहर में जब गांव के लोग मवेशियों को लेकर जंगल की तरफ गए तो एक गड्ढे के पास अगरबत्ती, सिंदूर, नींबू, खून से सना चाकू, फावड़ा पड़ा मिला। इस पर लोगों को अनहोनी की आशंका हुई तो पुलिस को सूचना दी।ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जांच पड़ताल की। पुलिस ने गड्ढा खुदवाया तो वह दृश्य देखकर सबका दिल कांप गया। गड्ढे के अंदर तीन साल के मासूम बच्चे का शव दफन था।

पुलिस ने तत्काल शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। हत्यारों ने मासूम को मारने के बाद तीन फीट गहरे में दबा दिया था। बच्चे के शव को लाल कपड़ों में लपेटा गया था। ग्रामीणों का आरोप है कि सूचना के बाद पुलिस ने तत्काल कार्रवाई नहीं की थी, जब रात में एसपी ग्रामीण के वेंकटेश को सूचना दी गयी तो उनके आदेश पर थाना पिनाहट प्रभारी प्रदीप चतुर्वेदी फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे थे।एसएसपी मुनिराज ने कहा कि अभी बच्चे की शिनाख्त नहीं हो पाई है। आरोपियों के बारे में सुराग ढूंढे जा रहे हैं। पुलिस जल्द आरोपियों को गिरफ्तार करेगी। वहीं बच्चे की बलि चढ़ाकर शव दफनाने से गांव के लोगों में दहशत का माहौल है।

इसे भी पढ़ें…

  1. गुरु पूर्णिमा पर मंदिर में दर्शन करने जा रहे चार श्रद्धालुओं की सड़क हादसे में मौत, 36 घायल
  2. रामपुर में बड़ा हादसा: कैंटर ने कार को मारी टक्कर, पांच लोगों की मौत
  3. आजमगढ़ में बुआ और भतीजे में हुआ प्‍यार, शादी के बाद गर्भवती बुआ संग रिश्‍ते से इंकार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here