शादी में धोखाधड़ी: दुल्हन की प्यास बुझाने के फेर में दूल्हा रह गया प्यासा, जानिए पूरा मामला

577
Fraud in marriage: The groom remained thirsty to quench the bride's thirst, know the whole matter
विदा होकर ससुराल जा रही दुल्हन ने रास्ते में पति को पानी लाने के बहाने भेजकर फरार हो गई।

मैनपुरी। यूपी के मैनपुरी के रहने वाले युवक की शादी काफी बहुत प्रयास के बाद भी नहीं हो रही थी। शादी के लिए परिवार काफी परेशान था। इस बीच एक महिला ने युवक के पिता से शादी कराने का वादा कर ​एक लड़की का फोटो दिखाया, और बताया कि एक लड़की है वह शादी करने को तैयार है, लेकिन वह बहुत गरीब है, उसे शादी के बदले में अस्सी हजार रुपये देने पड़ेंगे।

शादी तय हो गई तय डेट पर दूल्हा दुल्हन के लिए शादी के कपड़े जेवर और अस्सी हजार नकद लेकर पहुंचा। दुल्हन के परिजनों को अस्सी हजार रुपये देने के बाद शादी की रस्में हुई। दुल्हा मन ही मन जवानी की प्यास बुझाने का सपना देखने लगा। शादी के बाद दूल्हा जब दुल्हन को विदा कराकर घर जाने के लिए बस स्टैंड पर पहुंचा तो दुल्हन ने प्यास लगने की बात कहीं, इसके बाद दुल्हन अपनी प्रियतमा के लिए पानी लेने चला गया, जब युवक वापस आया तो दुल्हन वहां से लापता थी।Fraud in marriage: The groom remained thirsty to quench the bride's thirst, know the whole matter

हैरान करने वाली यह कहानी यूपी के मैनपुरी जिले से सामने आई यहां में शादी के बाद विदा होकर ससुराल जा रही दुल्हन ने रास्ते में पति को पानी लाने के बहाने भेजकर फरार हो गई। काफी तलाश के बाद जब नई नवेली दुल्हन का पता नहीं चल सका। पीड़ित और उसके पिता ने एक महिला और युवती के खिलाफ धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कोतवाली में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

आपकों बता दें कि मैनपुरी के करहल चौराहा के पास रहने वाली युवती ने कस्बा बेवर के रहने वाले युवक के साथ कुछ दिन पहले शादी के सात फेरे लिए थे। जब युवक उसे विदा कराकर बेवर बस स्टैंड पर पहुंचा। तभी दुल्हने ने उसे चकमा देकर नकदी जेवर लेकर फरार हो गई। इस घटना के बाद पीड़ित पति सदमे में है। इस तरह दुल्हन की प्यास बुझाने के चक्कर में दूल्हा प्यासा रह गया।

थाना बेवर क्षेत्र के गांव परौंखा निवासी राजेंद्र ने बताया कि कुछ दिन पूर्व क्षेत्र के रहने वाले एक व्यक्ति ने उनसे पूछा कि उसकी नजर में एक लड़की है। क्या वह अपने बेटे राजू की शादी करना चाहता है। जब राजेंद्र ने शादी के लिए सहमति दे दी तो उक्त व्यक्ति ने कहा कि लड़की को 80 हजार रुपये देने होंगे। दोनों में बात तय हो गई।

शहर के करहल चौराहा के पास रहने वाले एक महिला ने तय रकम लेने के बाद 17 अगस्त को राजू की युवती के साथ शादी करा दी। राजेंद्र ने अपनी पुत्रवधू को सोने के जेवर आदि दिए। शाम को राजू अपनी पत्नी को विदा कराकर घर ले जा रहा था। जब वह बेवर बस स्टैंड पर पहुंचा तो दुल्हन ने कहा कि उसे प्यास लगी है।

राजू पानी लेने चला गया, वापस आकर देखा तो दुल्हन गायब थी। तभी से पीड़ित अपनी दुल्हन को खोजकर लाने की इस आफिस से उस आफिस गुहार लगा रहा है। रविवार को पीड़ित ने कोतवाली में तहरीर देकर कार्रवाई की मांग की है।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here