Wednesday, October 5, 2022
Homeउत्तर प्रदेशज्योति बनी ज्वाला: मोबाइल नंबर मांगने पर बीच सड़क पर सोहदे को...

ज्योति बनी ज्वाला: मोबाइल नंबर मांगने पर बीच सड़क पर सोहदे को चप्पलों से पीटा

रायबरेली। सोमवार को एक युवक को बीच राह में एक लड़की से मोबाइल नंबर मांगना महंगा पड़ गया। युवक की इस हरकत के बाद लड़की ने उसे सरेराह जमकर चप्पल से पीटा। लड़की द्वारा युवक की पिटाई का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। वीडियो वायरल होने के बाद लोग इस बहादुर बेटी की हिम्मत की सराहना कर रहे है। दरअसल युवक ने जब लड़की से मोबाइल नंबर मांगा तो उसने उसे बीच चौराहे पर चप्पलों से जमकर पीटा। यही नहीं, मनचले को पीटने के बाद युवती ने उसे हिदायत भी दी कि दोबारा ऐसी हरकत की तो एफआईआर दर्ज करा देगी।। बीच चौराहे जिस तरह बहादुर बेटी ने साहस का परिचय दिया, उसके सभी कायल हो गए। सभी ने बेटी की प्रशंसा की और कहा कि हर बेटी को इसी तरह मनचलों से मुकाबला करना चाहिए।

मालदीव में हनीमून एन्जॉय कर रहीं हैं रिया कपूर की हॉट फोटो ने फैन्स के दिल में लगाई आग

दरअसल, डलमऊ कोतवाली क्षेत्र के घुरवारा के पास की रहने वाली 15 वर्षीय ज्योति एक मामले में तारीख पर डलमऊ तहसील गई थी। बताते हैं कि उसके पिता का निधन हो चुका है। घर संभालने की जिम्मेदारी उसी के कंधों पर है। वह पैदल ही तहसील से घर जा रही थी। इसी दौरान एक अन्य समुदाय का युवक उसके पास पहुंचा और मोबाइल नंबर मांगने लगा।

पहले समझाय फिर धुना

नंबर न देने पर परेशान करने लगा। पहले तो बेटी ने उसे समझाया, लेकिन जब युवक नहीं माना तो वह आपा खो बैठी। घुरवारा चौराहा पर उसने चप्पल उतारा और युवक को पीटने लगी। अचानक बीच चौराहे पर युवक को पिटता देख वहां भीड़ जुट गई। लोग पहुंचे तो बेटी का जवाब था कि युवक उसे परेशान कर रहा था। चंद कदम दूरी पर पुलिस थी लेकिन उन्हें बेटी के साथ हुई इस घटना की भनक तक नहीं लगी। बेटी की बात जानकर लोगों ने भी युवक को धमकाया, इस पर वह मौके से फरार हो गया। इस दौरान सभी ने बेटी के साहस को सलाम किया और कहा कि हर बेटी को इसी तरह मनचलों को सबक सिखाना चाहिए।

इस नंबर पर करें फोन

मिशन शक्ति अभियान की नोडल अधिकारी रेखा सिंह का कहना है कि बेटियों को जागरूक करने के लिए जिले में मिशन शक्ति अभियान चलाया जा रहा है। इसका मकसद महिलाओं को न्याय दिलाना है। वूमेन पावर लाइन 1090, महिला हेल्पलाइन 181, एंबुलेंस सेवा 108, मुख्यमंत्री हेल्पलाइन 1076, पुलिस आपातकालीन सेवा 112, चाइल्ड हेल्पलाइन 1098 आदि नंबरों पर फोन करके बेटियां और महिलाएं किसी भी समय मदद ले सकती हैं। महिलाएं शिक्षित बनें। अपने अधिकारों को जानें। डरें नहीं, डटकर मुकाबला करें।अपर पुलिस अधीक्षक विश्वजीत श्रीवास्तव ने बताया कि डलमऊ कोतवाली क्षेत्र की रहने वाली एक किशोरी से सिरफिरा युवक मोबाइल नंबर मांग रहा था।

इसे भी पढ़ें…

  1. हरिद्वार से मुंडन कराके लोटे रहे परिवार की गाड़ी को ट्रक ने मारी टक्कर, बच्चे समेत पांच की मौत
  2. कुशीनगर में जालिम पति ने पत्नी और दो बच्चों की गला रेतकर सुलाई मौत की नींद, जानिए वजह
  3. भारत ने 35 साल बाद चटाई अंग्रेजों को धूल, सीरीज में 2-1 से आगे, रोहित-शार्दुल ने किया कमाल
Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments