Tuesday, October 4, 2022
Homeउत्तर प्रदेशवाराणसी पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा 20 हजार का इनामी बदमाश, पैर...

वाराणसी पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा 20 हजार का इनामी बदमाश, पैर में मारी गोली

वाराणसी। यूपी के वाराणसी जिले की पुलिस ने मंगलवार रात 20 हजार का इनामी बदमाश सचिन उर्फ सिक्की पटेल को चौकाघाट के पास मुठभेड़ में गिरफ्तार किया। मुठभेड़ के दौरान एक गोली बदमाश के पैर में लगी है, जिसे इलाज के लिए बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया। आपकों बता दें कि छह माह पूर्व चेतगंज थाना के बाघबरियार सिंह मोहल्ले में सिक्की पटेल ने नशे में विद्यापीठ के छात्र नेता रोहित यादव को गोली मारी थी।

छात्र नेता को गोली मारने के बाद से ही बदमाश सिक्की पुलिस की नजर में चढ़ गया था। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज से सिक्की को चिह्नित कर लिया था। क्राइम ब्रांच प्रभारी अश्विनी पांडेय और सिगरा इंस्पेक्टर अनूप शुक्ला को सूचना मिली कि इनामी बदमाश किसी वारदात की नियत से अंधरापुल से नक्खीघाट की ओर जा रहा है। इस पर कंट्रोल को सूचना देते हुए पुलिस ने जाल बिछाया और चौकाघाट के पास जैतपुरा पुलिस ने घेराबंदी कर दी।

पुलिस को देखते ही की फायरिंग

चेकिंग के दौरान बदमाश को आता देख पुलिस ने उसे रुकने का इशारा किया तो दूर से ही बदमाश ने पुलिस की जीप पर फायरिंग कर दी। इसके बाद क्राइम ब्रांच और पुलिस की जवाबी फायरिंग में बदमाश के बाएं पैर में गोली लगी। लहूलुहान हाल में पुलिस ने उसे मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा में भर्ती कराया, जहां उसकी पहचान लक्सा के औरंगाबाद निवासी सचिन पटेल उर्फ सिक्की के रूप में हुई।

20 हजार का था इनाम

पुलिस पिछले छह माह से बदमाश को खोज रही थी। गिरफ्तारी नहीं होने पर पुलिस ने बदमाश सिक्की पर 20 हजार रुपये का इनाम भी घोषित किया था। पुलिस संग मुठभेड़ की सूचना मिलते ही वरुणा जोन के डीसीपी विक्रांत वीर और एडीसीपी प्रबल प्रताप सिंह मौके पर पहुंचे। घायल बदमाश के पास से एक बाइक, .32 बोर का पिस्टल और पांच कारतूस बरामद हुआ। डीसीपी वरुणा जोन विक्रांत वीर ने बताया कि घायल बदमाश को बीएचयू स्थित ट्रामा सेंटर में भर्ती कराया गया।लक्सा निवासी बदमाश सिक्की पटेल के खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास, आर्म्स सहित अन्य आरोपों में नौ मुकदमे दर्ज हैं। पहला मुकदमा वर्ष 2002 में चेतगंज थाने में दर्ज हुआ था। इसके बाद सिक्की धमकी और अन्य अपराध के बूते पार्षद शिव सेठ की हत्या करने वाले संतोष शुक्ला की गैंग में शामिल हो गया। संतोष शुक्ला के जेल जाने के बाद सिक्की पटेल मुठभेड़ में मारे गए सनी सिंह गैंग से जुड़ गया। कोतवाली, लक्सा और चेतगंज में कुल नौ मुकदमे दर्ज हैं।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments