अगर कोरोना संक्रमण नहीं बढ़ा तो यूपी में एक सितंबर से खुल सकते है स्कूल

235
If the corona infection does not increase, schools can open in UP from September 1
सीएम के आदेश के बाद बेसिक शिक्षा विभाग इसकी तैयारी शुरू कर दी है।

लखनऊ।अगर सब कुछ ठीक रहा तो एक सितंबर से प्रदेश में परिषदीय विद्यालय खुल सकते है। ऐसा संकेत मुख्यमंत्री योगी आदित्या नाथ ​ने दिए है। मंगवार को मुख्यमंत्री के नेतृत्व में हुई टीम 9 की बैठक में मुख्यमंत्री स्कूलों के खोलने पर चर्चा की। बेसिक शिक्षा विभाग 15 अगस्त से खुलने जा रहे माध्यमिक विद्यालयों में कोरोना संक्रमण की स्थिति के आंकलन के बाद यह फैसला ले सकता है, ​कि 1 सितंबर से कक्षा एक से आठ तक के विद्यालयों को खोजा जाए या नहीं। यह सब कोरोना वायरस के संक्रमण दर पर निर्भर करेगा, अगर तीसरी लहर आएगी तो विद्यालय नहीं खोले जाएंगे।

सीएम के निर्देशानुसार प​रिषदीय स्कूलों में ग्राम विकास एवं पंचायतीराज विभाग द्वारा साफ—सफाई और सैनिटाइजेशन की व्यवस्था करने के निर्देश दिए है। सीएम के आदेश के बाद बेसिक शिक्षा विभाग इसकी तैयारी शुरू कर दी है। विभाग के अधिकारियों ने बताया ​​​कि 15 अगस्त से खुल रहे माध्यमिक विद्यालयों मेंं संक्रमण की स्थिति के आंकलन और अभिभावकों के रूख को देखने के बाद उच्चस्तर पर विद्यालयों को खोलने का निर्णय लिया जाएगा। यदि संक्रमण ​की स्थिति नियंत्रण में रही तो 50 फीसद क्षमता के साथ विद्यालयों को खोलने का निर्णय लिया जा सकता है।

तीसरी लहर की आशंका

जिस तरह से कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने तबाही मचाई है, उसे देखते हुए सरकार काफी एहतियात बरत रही है। विशेषज्ञय सितंबर में कोरोना की तीसरी लहर आने के संकेत दे रहे है। ऐसे में सरकार विद्यालयों को खोलने से डर रही है। जानकारों की माने तो इस बार कोरोना बच्चों पर वार करेगा, अभी तक बच्चों का टीकाकरण भी शुरू नहो सका है। जिस तरह से देश के कई हिस्सों में संक्रमण दर तेजी से बढ़ रहा है उसे देखते हुए सरकार स्कूलों को खोलने को लेकर पूरी सतर्कता बरत रही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here