नौजवानों ने योगी सरकार से कहा- आँकड़ो में मत उलझाओ, रोजगार कहां है ये बतलावो।

194
प्रतापगढ में रोजगार अधिकार सम्मेलन का हुआ आयोजन

 पट्टी, प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश छात्र-युवा रोजगार अधिकार मोर्चा, प्रतापगढ़ जिला इकाई के तत्वावधान में नवजागरण काल के महान मनीषी मानवतावादी ईश्वर चंद्र विद्यासागर जयंती के अवसर पर “रोजगार अधिकार सम्मेलन” का आयोजन बाबा रामचंद्र नगर-बहेलियापुर पट्टी-प्रतापगढ़ में किया गया। सम्मेलन में जिले के तमाम छात्र, नौजवान शामिल हुए। इस अवसर पर नौजवानों ने प्रदेश सरकार पर हमला बोलते हुए सवाल किया कि आँकड़ो में मत उलझाओ – रोजगार कहां है ये बतलावो! 25लाख रिक्त पदों पर भर्ती दिसंबर तक शुरू करो!

सम्मेलन को मुख्य वक्ता के रुप में सम्बोधित ऑल इंडिया डीएसओ के प्रदेश सचिव श्री दिलीप कुमार ने कहा कि नवजागरण काल के महान मनीषी ईश्वर चंद्र विद्यासागर के जीवन संघर्षों पर गहराई से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि उस समय अंधविश्वास, कुप्रथा, रूढ़ीवादी सोच की परंपरा खत्म करने के लिए विद्यासागर ने लोगों को जागरूक किया था साथ ही स्त्री शिक्षा व समान अधिकार को प्रोत्साहन दिया और देश में आधुनिक व वैज्ञानिक शिक्षा देने के लिए तमाम प्रकार से ब्रिटिश हुकूमत से संघर्ष किया था।

परन्तु आजादी के बाद से ही शासक वर्ग द्वारा जाति,धर्म, अशिक्षा व अंधविश्वास चिंतन को बढ़ावा दिया जा रहा है ताकि छात्र नौजवान अन्याय के खिलाफ उठ खड़ा ना हो सके।और दूसरी तरफ सरकार छात्रों व नौजवानों को शिक्षा व रोजगार देने के बजाय देश के लाखों-करोड़ों लोगों को निजीकरण नीति लागू करके खत्म किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश में रोजगार के पदों को खत्म किया जा रहा है और जो भर्तियां हो रही है वह भ्रष्टाचार के आकंठ में डूबी हुई है। आज छात्रों नौजवानों को इसके खिलाफ प्रदेश मे सशक्त जन आंदोलन खड़ा करने की आज जरूरत है। सम्मेलन की अध्यक्षता करते हुए रामकुमार यादव ने कहा कि देश की सरकार बेरोजगार नौजवानों को रोजगार के सपने दिखाकर लोगों को भ्रमित करने का काम कर रही है। जरूरत है सभी बेरोजगारों को स्थाई रूप से रोजगार उपलब्ध कराने की जरूरत है। कार्यक्रम में प्रवीण विश्वकर्मा, उमाशंकर यादव, अच्छेलाल गौतम,संतोष कुमार, सूर्योदय कुमार आदि ने भी सम्बोधित किया।कार्यक्रम का संचालन यशवंत राव ने किया अंत में जोरदार नारों के साथ कार्यक्रम का समापन हुआ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here