यूपी चुनाव 2022: साइकिल और घड़ी एक साथ चलने को तैयार

283
UP Election 2022: Cycle and clock ready to go together
किसान अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं लेकिन उनकी सुनी नहीं जा रही है। अब एनसीपी भी इस मुहिम में उनके साथ है और गांव-गांव जाकर अभियान चलाएगी।

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर पार्टियां अपनी तैयारी में लगी है। अभी से गठबंधन वोटबैंक को लेकर खेला शुरू हो गया। अभी तक किसी भी पार्टी से गठबंधन से इन्कार कर रही सपा को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी का साथ मिलता दिख रहा है। अब अगर सबकुछ सही रहा तो यूपी में साइकिल के साथ घड़ी चल सकती है। एनसीपी के महासचिव केके शर्मा ने कहा कि उत्तर प्रदेश का बुरा हाल है। इसे सुधारना होगा। यहां समाजवादी पार्टी के साथ मिलकर हम चुनाव लड़ेंगे। इस बाबत सपा प्रमुख अखिलेश यादव से बात भी हो गई है और अब केवल सीटों का चयन होना है। मंगलवार को लखनऊ में प्रेस वार्ता में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के महासचिव केके शर्मा और प्रदेश अध्यक्ष उमाशंकर यादव ने यह बात कही। उन्होंने कहा कि पार्टी सुप्रीमो शरद पवार ने साफ कहा है कि उत्तर प्रदेश में एनसीपी को युवाओं की और किसानों की आवाज उठानी होगी क्योंकि वहां भाजपा सरकार लोकतंत्र के लिए खतरा पैदा कर रही  है। जो भी आवाज उठा रहा है उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है और उसे दबाया जा रहा है।

यूपी में जबरन धर्म परिवर्तन करना गलत है पर अगर कोई इच्छा से धर्म परिवर्तन कर रहा है तो इसमें किसी को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। वहीं, प्रदेश अध्यक्ष उमाशंकर यादव ने कहा कि एक अगस्त से एनसीपी प्रदेश भर में ‘प्रदेश बचाओ संविधान बचाओ’ आंदोलन की शुरुआत करेगी जिसमें किसानों और नौजवानों पर फोकस किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश की स्थिति खराब है। किसान अपने हक की लड़ाई लड़ रहे हैं लेकिन उनकी सुनी नहीं जा रही है। अब एनसीपी भी इस मुहिम में उनके साथ है और गांव-गांव जाकर अभियान चलाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here