आगरा:अस्पताल में लगी भीषण आग में डॉक्टर और उसके बेटा-बेटी की मौत, मरीजों को बचाया गया

238
Agra: Doctor and his son and daughter died in a fierce fire in the hospital, patients were saved
हॉस्पिटल में भर्ती मरीज और कर्मचारियों में अफरा-तफरी मच गई। सूचना पर दमकल और शाहगंज थाना पुलिस मौके पर पहुंची

आगरा। पर्यटन नगरी आगरा में बुधवार अलसुबह एक बड़ा हादसा हो गया। इस हादसे में तीन लोगों की मौत हो गई। दरअलस आगरा के शाहगंज के खेरिया मोड़ स्थित आर. मधुराज हॉस्पिटल में बुधवार तड़के आग भड़क गई। इससे हॉस्पिटल में भर्ती मरीज और कर्मचारियों में अफरा-तफरी मच गई। सूचना पर दमकल और शाहगंज थाना पुलिस मौके पर पहुंची। दमकल कर्मियों ने किसी तरह एक घंटे बाद चार लोगों को बाहर निकाला, लेकिन अस्पताल संचालक परिवार सहित दूसरी मंजिल पर फंस गए।

आग की चपेट में आने से अस्पताल संचालक डॉक्टर राजन सिंह, उनके पुत्र ऋषि और पुत्री शालू की मौत हो गई है। घटना की जानकारी पर पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए। फिलहाल मरीजों को बाहर निकाल कर दूसरे अस्पताल में शिफ्ट किया गया है। पुलिस के पहुंचने से पहले ही हॉस्पिटल का स्टाफ गायब हो गया। आग लगने की वजह का खुलासा नहीं हो पाया है।

शार्ट सर्किट से हुआ हादसा

शाहगंज क्षेत्र के जगनेर रोड पर स्थित आर मधुराज हॉस्पिटल है। इसका दो मंजिला भवन है। दूसरी मंजिल पर हॉस्पिटल संचालक डॉक्टर राजन सिंह का परिवार रहता है। बुधवार तड़के अचानक अस्पताल में आग लग गई। देखते ही देखते लपटें निकलने लगीं। आग लगने के बाद पुलिस के पहुंचने से पहले ही हॉस्पिटल का स्टाफ भाग निकला। जानकारी पर लोग जुट गए। इसके बाद पुलिस और दमकल पहुंची। आशंका जताई जा रही है कि यह हादसा शॉर्ट सर्किट से हुआ है।

अस्पताल में भर्ती थे चार मरीज

बेसमेंट और भूतल पर मरीज भर्ती थे, जबकि संचालक का परिवार पहली मंजिल पर रह रहा था। सभी आग में फंस गए। एक घंटे बाद निकाला जा सका। चार की हालत गंभीर थी। इनमें से दो की अस्पताल में मौत हो गई। थाना प्रभारी निरीक्षक जसवीर सिंह सिरोही का कहना है कि आग लगने का कारण नहीं पता चल सका है। किस किस मंजिल पर आग लगी यह भी पता किया जा रहा है। हालांकि आशंका शार्ट सर्कि से आग लगने की जताई जा रही है।

इसे भी पढें..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here