Thursday, September 29, 2022
Homeबिजनेस समाचारएचडीएफसी बैलेंस्ड एडवांटेज फंड के फायदे के बारे में जानिए

एचडीएफसी बैलेंस्ड एडवांटेज फंड के फायदे के बारे में जानिए

लखनऊ-बिजनेस डेस्क। अगर आप शेयर बाजार के उतार-चढ़ाव के माहौल को लेकर दुखी हैं और सुरक्षित स्कीम में निवेश करना चाहते हैं तो आप को इसके लिए बैलेंस्ड एडवांटेज फंड (बैफ) को एक बार चेक करना चाहिए। वित्तीय बाजार पूरी तरह से अनिश्चितताओं के बाजार होते हैं और एक निवेशक के लिए किसी एक असेट अलोकेशन का प्रबंधन करना चुनौती वाला काम होता है।

ये स्कीम्स विशेषज्ञों द्वारा बनाई जाती हैं और उचित रिटर्न को ध्यान में रखकर विविधीकरण की रणनीति तैयार की जाती है।बैलेंस्ड एडवांटेज फंड उन फंडों की कैटेगरी होते हैं जो प्रभावी तरीके से शेयरों को खरीद कर उतार-चढ़ाव को तब अच्छी तरह से मैनेज कर सकें जब वे कम मूल्यांकन पर हों और उन्हें तब बेचा जाए, जब शेयर महंगे स्तर पर चले जाएं। शेयरों की बढ़ती कीमतों को पकड़ने और उतार-चढ़ाव से निवेशकों को सुरक्षित रखने के लिए बैफ डायनॉमिक असेट अलोकेशन का एक बेहतरीन फीचर है।

यह हमें प्रभावी तरीके से उतार-चढ़ाव को मैनेज करने के लिए सक्षम बनाता है। निवेशक जब भी शेयरों की खरीद फरोख्त पिछले प्रदर्शन के आधार पर करें तोअब इस स्कीम का उपयोग अपनी लालच और डर को नियंत्रित करने के लिए उपयोग कर सकते हैं।

टीआरआई केवल 19 गुना बढ़ा

आंकड़े बताते हैं कि एचडीएफसी बैलेंस्ड एडवांटेज फंड जो इस कैटेगरी में सबसे पुराना फंड है, इसका नेट असेट वैल्यू (एनएवी) 31 मार्च, 2022 तक स्थापना के समय 106 गुना बढ़ गया है। फंड की शुरुआत 1994 में हुई थी। इसी समय में निफ्टी 50 टीआरआई केवल 19 गुना बढ़ा है। यानी स्कीम ने 18 प्रतिशत चक्रवृद्धि दर से फायदा दिया जबकि निफ्टी 50 टीआरआई ने 11 फीसदी की दर से रिटर्न दिया।

इसे भी पढ़ें

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments