प्रतापगढ़ में सोते समय दो मासूम भाईयों की जिंदा जलकर मौत, मां हुई बेहोश

480
Two innocent brothers were burnt alive while sleeping in Pratapgarh, mother fainted
दोनों बेटों की मौत से मां नीलम अचेत पड़ी हुई है। घटना को लेकर ग्रामीण अचंभित है कि आखिर यह कैसे हो गया।

प्रयागराज। यूपी के प्रतापगढ़ जिले में आज सुबस बहुत ही दर्दनाक हादसा हो गया। इस हादसे में दो मासूम भाईयों की जलकर दर्दनाक मौत हो गई।यह हादसा उस समय हुआ जब दोनों भाई सो रहे थे और उनकी मां शौच के लिए सुबह—सुबह घर से निकल गई थी। महिला घर से बाहर जाते समय दरवाजा बंद कर गई थी। जब वह लौटी तो घर का नजारा देखकर वह दहाड़े मारकर रोने लगी। महिला की रोने की आवाज सुनकर आस पास के लोगों की नींद खुली और भागते हुए पहुंचे, किसी प्रकार आग बुझाई गई। आग बुझाने के बाद सबकी रूह कांप गई, कयोंकि दोनों भाईयों की जलकर मौत हो चुकी थी। आग कैसे लगी यह अभी स्‍पष्‍ट नहीं हो सका है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

महिला के पति का हो चुका है निधन

प्रतापगढ़ के संग्रामगढ़ थाना क्षेत्र के भुलना का पुरवा भद्विव गांव निवासी दिलीप कुमार की मौत बीमारी के कारण दो वर्ष पूर्व हो चुकी थी। दिलीप के दो बेटे इशांत 8 वर्ष कृषना 6 वर्ष अपनी मां नीलम के साथ रहते थे। नीलम मेहनत मजदूरी कर किसी तरीके से दोनों बच्चों का भरण पोषण कर रही थी।

गुरुवार की रात नीलम अपने दोनों बच्चों के साथ खाना पीना खाकर सो गई। दोनों बच्चे मां नीलम के साथ एक ही कमरे में सो रहे थे। शुक्रवार की भोर करीब 5 बजे नीलम दोनों बेटे को सोते हुए छोड़कर शौच के लिए बाहर गई। उसने बाहर से दरवाजे में सिटकनी लगा दिया। जब वह लौट कर आई तो दोनों बेटे आग का गोला बने हुए थे। यह देख वह शोर मचाते हुए दोनों बेटों पर पानी डालकर बुझाने का प्रयास करने लगी।

बच्चों की मौत मां हुई अचेत

वहीं आग से दो बच्चों की जलकर मौत की सूचना पुलिस को दी गई। कुछ ही देर में वहां पहुंची संग्रामगढ़ थाने की पुलिस ने नीलम व आसपास के लोगों से पूछताछ करने के बाद कमरे का मुआयना किया। इसके बाद बच्‍चों के शवों को कब्‍जे में ले लिया। हालांकि अभी यह रहस्‍य बना है कि कमरे में आग कैसे लगी। कहीं ऐसा तो नहीं कि किसी ने आग लगाई हो। फिलहाल इन सब कयासों की पुलिस छानबीन कर रही है। दोनों बेटों की मौत से मां नीलम अचेत पड़ी हुई है। घटना को लेकर ग्रामीण अचंभित है कि आखिर यह कैसे हो गया।

इसे भी पढ़ें..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here