मंदिर से लौट रहे श्रद्धालुओं की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, एक ही परिवार के आठ लोगों की मौत

588
Truck collided with the car of the devotees returning from the temple, eight people of the same family died
एक साथ 8 लोगों की मौत हो गई । हादसे की खबर जब उनके गांव पहुंची तो वहां मातम पसर गया ।

बहादुरगढ़-हरियाणा। उत्तरप्रदेश के फिरोजाबाद जिले का रहने वाला एक परिवार राजस्थान के गोगामेड़ी में दर्शन करने गया था. वहां से लौटते समय हरियाणा में हाईवे के किनारे खड़ी एक ट्रक के पीछे टॉयलेट करने के लिए जब कार रोकी तो पीछे से आ रही एक ट्रक ने टक्कर मार दी, इस हादसे में एक साथ 8 लोगों की मौत हो गई । हादसे की खबर जब उनके गांव पहुंची तो वहां मातम पसर गया । यह दिल दहलाने वाला हादसा दिल्ली से सटे बहादुरगढ़ में कुंडली-मानेसर-पलवल (KMP) एक्सप्रेस-वे पर शुक्रवार को हुआ।

बादली के पास एक कार को तेज रफ़्तार ट्रक ने टक्कर मार दी। इस हादसे में 8 लोगों की मौत हुई है। मरने वालों में 4 पुरुष, 3 महिला और 1 बच्चा शामिल है। एक महिला और बच्ची घायल है। मारे गए सभी लोग उत्तरप्रदेश के फिरोजाबाद जिले के हैं। ये सभी एक ही परिवार के थे और राजस्थान के गोगामेड़ी से वापस घर जा रहे थे। हादसे में गंभीर रूप से जख्मी हुई एक महिला को रोहतक पीजीआई में भर्ती कराया गया।

राजस्थान से लौट रहे थे सभी

हादसे के शिकार लोग उत्तरप्रदेश के फिरोजाबाद जिले के नंगला अनूप गांव के रहने वाले हैं । शिव कुमार, उनकी पत्नी मुन्नी देवी, बेटा मनोज, पुत्रवधु स्वीटी, बेटी खुशबू व आरती और आरती की बेटी आंशी, खुशबू का बेटा प्रियांशु व मनोज का एक बेटा दो दिन पहले राजस्थान के गोगामेड़ी में दर्शन करने गए थे। यह लोग अपने पड़ोसी बबलू की कार किराए पर लेकर गए। गाड़ी करहेटा का अमन चला रहा था।

गोगामेड़ी में माथा टेकने के बाद 21 अक्टूबर की रात सभी लोग वापस रवाना हुए। शुक्रवार सुबह बादली के पास केएमपी एक्सप्रेस-वे पर सड़क किनारे साइड में एक ट्रक खड़ा था। रातभर के सफर की वजह से कुछ लोगों ने टॉयलेट वगैरह जाने की बात कही तो अमन ने अपनी कार साइड में लगाकर उस ट्रक के पीछे रोक दी। उसी समय पीछे से आ रहे एक तेज रफ्तार ट्रक ने उनकी कार को टक्कर मार दी।

कार हो गई कबाड़

टक्कर इतनी तेज थी कि इससे ट्रक भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। जोरदार धमाके के साथ पीछे से ट्रक की टक्कर लगने से कार का आधा हिस्सा आगे खड़े ट्रक में जा घुसा। जो हिस्सा बचा, उसके परखच्चे पीछे टक्कर मारने वाले ट्रक ने उड़ा दिए। एक्सीडेंट के बाद हाईवे से गुजर रहे वाहनचालकों ने आरती और अमन को तो बड़ी मुश्किल से बाहर निकाल लिया मगर बाकी लोग कार में ही फंस गए। हादसे के बाद दोनों ट्रकों के ड्राइवर मौके से फरार हो गए।

बाद में पुलिस की मदद से लोगों को कार से निकाला गया। गंभीर चोटों की वजह से आरती को रोहतक पीजीआई में और बच्ची को बहादुरगढ़ अस्पताल में भर्ती कराया गया। आरती का ससुराल यूपी के मैनपुरी जिले के गोदंई गांव में है और वह गोगामेड़ी जाने के लिए कुछ दिन पहले ही अपने मायके नंगला अनूप आई थी। वही जब शनिवार को आठों शव गांव पहुंचे तो हाहाकार मच गया, परिजनों ने आठों को एक साथ अंतिम विदाई दी ।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here