दोस्त के प्यार में पागल पत्नी ने घर छोड़ा, पति ने फांसी तो पत्नी ने आग लगाकर दी जान

326
The wife, who was madly in love with a friend, left the house, the husband hanged her, then the wife set her life on fire, the four-year-old child was left alone
पुलिस को युवक के पास से एक सुसाइड नोट मिला है।

भोपाल। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल से एक दिल दहलाने वाली खबर ने सबको हैरान कर दिया। यहां पति -पत्नी के बीच आये दोस्त ने पुरे परिवार को खत्म करके रख दिया।यह घटना भोपाल के टीटी नगर की है, यहां के रहने वाले एक युवक ने पत्नी की बेवफाई से परेशान होकर गुरुवार रात फांसी लगाकर जान दे दी । पति की मौत की खबर मिलते ही शुक्रवार सुबह घर पहुंची पत्नी ने पेट्रोल डालकर आग लगा ली।

इलाज के दौरान दोपहर में उसने भी दुनिया छोड़ दी । जांच पड़ताल में पुलिस को युवक के पास से एक सुसाइड नोट मिला है। इसमें उसने पत्नी के आशिक (सागर बाबा) के लिए लिखा है कि पत्नी-बच्चे से मिलाने के लिए सागर बाबा के पैर तक छुए, लेकिन वह नहीं पिघला। सागर बाबा ने जीवन तबाह कर दिया। मैं पत्नी और सागर बाबा की वजह से जान दे रहा हूं। दोनों ने 2014 में लव मैरिज की थी। पुलिस अब सागर की तलाश में जुटी है।

सात साल पहले की थी लव मैरिज

भोपाल में जैन मंदिर के सामने पीएचई कॉलोनी में रहने वाले अक्षय सोमकुंवर उर्फ गोलू (26) बल्लभ भवन में लिफ्ट ऑपरेटर का काम करता था । गुरुवार रात खाना खाने के बाद वह कमरे में चला गया। रात करीब 12:30 बजे उसकी मां कुसुम बाई ने देखा कि अक्षय फंदे से लटका है।

कुसुम बाई ने तुरंत इसकी जानकारी पड़ोसियों को दी, सभी ने उसे जेपी अस्पताल लेकर गए । यहां डॉक्टरों ने अक्षय को मृत घोषित कर दिया। इधर, शुक्रवार सुबह अक्षय की पत्नी सुधा को पति की मौत के बारे में पता चला। वह घर पहुंची और छत पर चली गई। जहां से पेट्रोल डालकर कमरे में आई। इसके बाद खुद को आग लगा ली। सास कुसुम बाई व रिश्तेदारों ने उसे बचाया। अस्पताल में इलाज के दौरान दोपहर उसकी मौत हो गई।

बेटे को भी मारना चाहा

अक्षय की पत्नी सुधा ने आग लगाने के बाद चार साल के बेटे को भी आग के हवाले करना चाह रही थी। वह बेटे को खींच रही थी। इसी बीच परिजनों ने उसे छीन लिया। अक्षय के भाई नीलेश ने बताया कि सुधा की वजह से भाई को जान देनी पड़ी। भाई ने सुधा के प्रेमी को लेकर सुसाइड नोट में भी जिक्र किया है, लेकिन पुलिस ने परिजनों को सुसाइड नोट पढ़ने नहीं दिया।

दोस्त ने किया घर तबाह

घर वालों ने बताया अक्षय और सागर दोनों दोस्त थे। अक्षय के जरिए ही वह उसकी पत्नी से मिला था। कुछ दिनों बाद सागर और सुधा के बीच नजदीकी बढ़ी। जब अक्षय को शक हुआ और पत्नी से बात की तो वह उसे परेशान करने लगी। जब भी अक्षय इस बारे में बात करना चाहता, सुधा सागर से अक्षय को धमकी दिला देती थी।

वहीं अक्षय के बड़े भाई नीलेश ने बताया कि वह 12 नंबर मल्टी में रहता है, जबकि उसका भाई गोलू उर्फ अक्षय मल्टी में मां के साथ रहता था। गोलू ने 2014 में सुधा शुक्ला से प्रेम विवाह किया था। उनका 4 साल का बेटा भी है। तीन-चार साल से सुधा का प्रेम प्रसंग इलाके के सागर नाम के युवक से शुरू हो गया था। इस बात से गोलू परेशान था। सुधा 7 अक्टूबर को घर से बच्चे को लेकर सागर के साथ चली गई थी। वह पंचशील नगर में उसके साथ रह रही थी।

गोलू पत्नी को कॉल करता था, लेकिन वह नहीं आ रही थी। इसी से दुखी होकर चार दिन पहले गोलू ने फांसी लगाने का प्रयास किया था। उस समय मां ने बचा लिया। अगले दिन गोलू ने हाथ की नस काट ली थी। इसका पता चलते ही सुधा घर लौट आई। एक दिन रहने के बाद वापस सागर के पास चली गई। गोलू ने पत्नी से फिर घर लौटने की गुजारिश की, लेकिन वह नहीं मानी।

इसे भी पढ़ें..

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here