लखीमपुरखीरी: प्रियंका को मंच पर नहीं मिली जगह, अब 26 को को किसान लखनऊ में महापंचायत

224
Lakhimpurkheri: Priyanka did not get a place on the stage, now farmers on 26th, Mahapanchayat farmers in Lucknow
अरदास के दौरान किसानों—नेताओं ने कई बड़े ऐलान किए हैं।

लखीमपुरखीरी। यूपी के लखीमपुरखीरी में हुए बवाल के बाद पांच की किसानों समेत 9 लोगों की मौत हो गई थी। इसके बाद से पूरे प्रदेश में तेजी से घटनाक्रम बदल रहा है। आज मृत किसानों को श्रद्धांजलि सभा के साथ ही अंतिम अरदास दी जा रही है। श्रद्धांजलि सभा घटनास्थल से करीब एक किमी की दूर हो रही है। यहां पर UP के अलावा पंजाब, हरियाणा, दिल्ली, राजस्थान और छत्तीसगढ़ से करीब 50 हजार किसान पहुंचे हैं।

अरदास के दौरान किसानों—नेताओं ने कई बड़े ऐलान किए हैं। 24 अक्टूबर को देश की सभी प्रमुख नदियों में मृतक किसानों की अस्थि का विसर्जन होगा। इसी दिन 10 से 4 बजे तक चक्का जाम होगा। यूपी के हर जिले और देश के हर राज्य में अस्थि कलश यात्रा जाएगी। तिकोनिया में घटनास्थल पर 5 किसानों की शहीदी स्मारक बनाया जाएगा।

राकेश टिकैत का कहना है कि अभी तक रेड कार्पेट गिरफ्तारी हुई है। आरोपियों को गुलदस्ता देकर बुलाया गया। मंत्री के रहमो-करम वाले पुलिस कैसे पूछताछ करेंगे जब तक बापू बेटा जेल में बंद नहीं होंगे, जब तक मंत्री का इस्तीफा नहीं होगा। शांति पूर्व आंदोलन जारी रहेगा।

प्रियंका भी पहुंची

लखीमपुरखीरी में चल श्रद्धांजलि सभा में शामिल होने के लिए कई सियासी नेता भी पहुंचे। इसी क्रम में प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर पहुंची। हालांकि, उन्हें मंच पर जगह नहीं मिली। इससे पहले उन्हें सीतापुर में रोक गया था। रालोद नेता जयंत चौधरी भी पहुंचे हैं। संयुक्त मोर्चा ने ऐलान किया है कि अरदास कार्यक्रम के मंच पर कोई सियासी नेता नहीं बैठेगा। जो भी नेता इस कार्यक्रम में आएगा वह पब्लिक के साथ बैठेगा।वहीं आपकों बता दें कि प्रियंका गांधी के विरोध में लखीमपुरखीरी में पोस्टर भी लगे कि हमें सिखों के नरसंहार करने वालों की सहानुभूति नहीं चाहिए।

अरदास में किसानों के 5 बड़े फैसले

  • 15 अक्टूबर प्रधानमंत्री का पूरे देश में पुतला फूंका जाएगा।
  • 18 अक्टूबर में ट्रेनें रोकी जाएंगी।
  • 24 अक्टूबर को अस्थि विसर्जन होगा।
  • 5 मृतक किसानों का शहीदी स्मारक बनाया जाएगा।
  • 26 को लखनऊ में महापंचायत होगी।

 

  • सोमवार रात को पहुंचे थे टिकैत

आपकों बता दें कि भाकियू प्रवक्ता राकेश टिकैत सोमवार की रात में ही कार्यक्रम स्थल पहुंच चुके हैं। श्रद्धांजलि सभा में किसान जुटने लगे हैं। यहां कौड़ियाला घाट गुरुद्वारा में रविवार से ही अखंड पाठ चल रहा है।कार्यक्रम की सुरक्षा व्यवस्था को परखने के लिए विशेष पुलिस जांच कमेटी के DIG उपेंद्र अग्रवाल, DM अरविंद चौरसिया और SP विजय ढुल ने कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here