Sunday, September 25, 2022
Homeउत्तर प्रदेशवाराणसीयूपी: बाबा विश्वनाथ की नगरी में यूं गरजीं प्रियंका, कहा- किसानों के...

यूपी: बाबा विश्वनाथ की नगरी में यूं गरजीं प्रियंका, कहा- किसानों के हत्यारों को बचा रही सरकार

वाराणसी। कांग्रेस महासचिव व कांग्रेस की यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी का आज एक नया रूप देखने को मिला। माथे पर चंदन व हाथों में तुलसी माला धारण कर जब वह बाबा विश्वनाथ की नगरी काशी में भारी हुजूम के बीच गरजीं तो यूपी में लम्बे अर्से बाद एक बार फिर कांग्रेसी सियासत यहां खिलखिला उठी। दरअसल यूपी के लखीमपुर खीरी हिंसा में 4 किसानों की मौत के बाद विपक्षी पार्टियां लगातार यूपी सरकार पर हमलावर हैं। कांग्रस, सपा और बसपा समेत सभी राजनीतिक दल बीजेपी पर किसानों की अनदेखी का आरोप लगा रही हैं। इन सबके बीच रविवार को कांग्रेस महासचिव व पूर्वांचल की प्रभारी प्रियंका ने किसानों की मौत को लेकर योगी सरकार पर निशाना साधा है। पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में किसान न्याय रैली को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने आज बीजेपी सरकार पर जमकर प्रहार किया।

उन्होंने कहा कि सीएम योगी अभी तक लखीमपुर के पीड़ितों से मिलने नहीं गए। पीड़ित परिवार ने कहा हमें मुआवजा नहीं न्याय चाहिए। आगे उन्होंने कहा कि बीजेपी सरकार में जनता त्रस्त और परेशान है। साथ ही उन्होंने सोनभद्र नरसंहार को याद करते हुए भी सरकार को कोसा। प्रियंका ने कहा कि यूपी में अपराध लगातार बढ़ता जा रहा है। सरकार ने अपराधियों को नहीं रोका। सरकार ने परिवार के सदस्यों को अपनी बेटी की चिता जलाने से रोका। उस परिवार ने मुझसे कहा कि दीदी हमें न्याय चाहिए, लेकिन हम न्याय की उम्मीद नहीं कर सकते। उन्होंने कहा कि लखीमपुर खीरी में जो हुआ, इस देश के गृह राज्यमंत्री के बेटे ने अपने गाड़ी के नीचे 6 किसानों को निर्ममता से कुचल दिया।

पीड़ित परिवार कहते हैं कि हमें पैसे नहीं चाहिए, हमें मुआवजा नहीं चाहिए, हमें न्याय चाहिए, मगर हमें न्याय दिलवाने वाला नहीं दिख रहा है। सरकार इस ओर ध्यान नहीं दे रही है। उन्होंने कहा कि सरकार मंत्री और उसके बेटे को बचाने में लगी रही।विपक्षी नेताओं को रोकने में लगी रही। मैंने रात में जाने की कोशिश की तो पुलिस लगी रही, लेकिन अपराधी को पकड़ने के लिए एक भी पुलिसवाला नहीं निकला। अपराधी को उन्होंने निमंत्रण भेजा। रैली को सम्बोधित करते हुए प्रियंका ने कहा कि यह देश नष्ट हो रहा है, इस बात को आप सब लोग पहचानिए। सच्चाई क्या है और उसे बोलने से डर क्यों रहे हैं? समय आ गया है। चुनाव की बात नहीं है, अब देश की बात है। यह देश आपका देश है। भाजपा के नेताओं, मंत्रियों और प्रधानमंत्री की जागीर नहीं है।

उन्होंने कहा कि अगर आप जागरूक नहीं बनेंगे और उनकी राजनीति में उलझें रहेंगे तो आप कुछ नहीं बचा पाएंगे। आपको जो आंदोलनकारी और आतंकवादी कहते हैं, उनको न्याय देने के लिए मजबूर करिए। कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को जेल में डालिए और मारिए, लेकिन हम डरेंगे नहीं। उन्होंने कहा कि जब तक वह गृह राज्य मंत्री इस्तीफा नहीं दे देता है हम चुप नहीं बैठेंगे। हम कांग्रेस के कार्यकर्ता हैं, हमने देश की आजादी की लड़ाई लड़ी है, हम किसी से नहीं डरेंगे। बताते चलें कि यूपी विधानसभा चुनाव 2022 से पहले प्रियंका गांधी की यह रैली शुरुआत मानी जा रही है। रैली में भारी तादाद में लोग मौजूद रहे।

 

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments