Wednesday, October 5, 2022
Homeउत्तर प्रदेशलखीमपुर खीरी पहुंचे राहुल और प्रियंका, कानून व्यवस्था बनाए रखने फोर्स तैनात

लखीमपुर खीरी पहुंचे राहुल और प्रियंका, कानून व्यवस्था बनाए रखने फोर्स तैनात

लखनऊ-लखीमपुर खीरी। यूपी के लखीमपुरखीरी के तिकुनिया में रविवार को हुए बवाल के बाद मचा घमासान रुकने का नाम नहीं ले रहा है। इस बीच केंद्रीय मंत्री अजय मिश्र दिल्ली पहुंच गए हैं। वहां वह केंद्रीय मंत्री अमित शाह से मुलाकात करेंगे। आपकों बता दें कि योगी सरकार ने राहुल-प्रियंका को तीन अन्य लोगों के साथ लखीमपुर खीरी जाने के अनुमति दी है। राहुल गांधी लखनऊ से सीतापुर पहुंचे और प्रियंका को लेकर लखीमपुर पहुंच चुके हैं। इसके अलावा सभी विपक्षी दल एक बार में पांच लोगों के साथ लखीमपुर खीरी जा सकेंगे।


कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी लखीमपुर खीरी पहुंच गए हैं। इसके मद्देनजर जिला प्रशासन ने भारी सुरक्षा बल तैनात किया है। इस बीच कांग्रेस नेता का बयान आया है कि प10 हजार वाहनों का काफिला लेकर कांग्रेसी जाएंगे लखीमपुर खीरी,वहीं सिद्धू ने लखीमपुर खीरी कूच को लेकर पंजाब भवन में बैठक की। इस दौरान मंत्री परगट सिंह ने कहा कि हम 10 हजार वाहनों का काफिला लेकर लखीमपुर खीरी जाएंगे।

लखीमपुर खीरी जा रहे सचिन पायलट हिरासत में

आपकों बता दें कि लखीमपुर खीरी जा रहे कांग्रेस नेता एवं पूर्व केंद्रीय मंत्री सचिन पायलट को पुलिस प्रशासन ने मूंढापांडे टोल प्लाजा से आगे नहीं बढ़ने दिया। मूंढापांडे टोल प्लाजा पर उन्हें रोक लिया गया। रोके जाने पर सचिन ने स्थानीय कांग्रेसियों के साथ अपनी गाड़ी का रुख मुरादाबाद शहर की ओर कर दिया।

माना जा रहा है कि वह मुरादाबाद में पीडब्ल्यूडी के गेस्ट हाउस पहुंचकर आगे की रणनीति पर चर्चा करेंगे। इस दौरान पुलिस की गाड़ियां भी उनके काफिले के साथ हैं। इससे पूर्व गजरौला और जोया टोल प्लाजा से उनका काफिला बेरोकटोक आगे बढ़ा था। गजरौला में पितृ विसर्जन अमावस्या के कारण गंगा पुल पर लगे जाम के दौरान कांग्रेसियों ने उनका स्वागत किया। उन्होंने कांग्रेसियों के बीच संक्षिप्त संबोधन भी किया था। हांलांकि इससे पहले आचार्य प्रमोद के ट्विटर हैंडल से ट्वीट कर दावा किया गया था कि सचिन पायलट और आचार्य प्रमोद को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और किसी गुप्त स्थान पर ले जा रहे हैं।

गुरुवार को लखीमपुरखीरी जाएंगे अखिलेश यादव

अखिलेश यादव ने कहा है कि वह गुरुवार को लखीमपुर खीरी जाकर पीड़ितों के परिजनों से मुलाकात करेंगे। राहुल गांधी, कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को लेकर सीतापुर पीएसी से लखीमपुर खीरी के लिए रवाना हो गए हैं। इनके साथ छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पंजाब के सीएम चरणजीत सिंह चन्नी, दीपेंद्र हुडा आदि मौजूद हैं। यह लोग पीड़ित किसान परिवार के अलावा मृतक पत्रकार रमन कश्यप के परिवार से भी मिलेंगे।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार लखीमपुरखीरी के तिकुनियां में हुए बवाल के मामले में रिपोर्ट दर्ज होने के तीन दिन बाद भी नामजद अभियुक्त आशीष मिश्र की गिरफ्तारी न होने से पुलिस बैकफुट पर है। विपक्ष समेत किसान नेता उनकी गिरफ्तारी की मांग कर रहे हैं।

मामले में बुधवार को मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एडीजी लखनऊ जोन एसएन साबत ने बताया कि पुलिस अभी घटना से जुड़े साक्ष्य जुटा रही है। साक्ष्यों की पुष्टि होने पर ही फौरन गिरफ्तारी की जाएगी। उधर, बुधवार को दिल्ली पहुंचे केंद्रीय गृहराज्य मंत्री अजय मिश्र टेनी गृह मंत्रालय में कुछ ही देर रुके। सूत्रों के हवाले से खबर है कि आशीष मिश्र कभी भी सरेंडर कर सकते हैं।

पत्रकार रमन कश्यप को भेजा गया 45 लाख का चेक

लखीमपुर खीरी के तिकुनिया बवाल मामले में निघासन के मृत पत्रकार रमन कश्यप को भी जिला प्रशासन की तरफ से 45 लाख का चेक दिया गया है। डीएम डॉक्टर अरविंद चौरसिया ने बताया कि निघासन के मृतक पत्रकार रमन कश्यप और  श्याम सुंदर निषाद को 45- 45 लाख का चेक भिजवाया जा रहा है। राहुल गांधी के निघासन, पलिया और धौरहरा जाने के एलान पर जिला प्रशाशन ने किसी भी अप्रिय स्थिति से बचने के लिए पत्रकार रमन कश्यप और श्याम सुंदर को 45- 45 लाख का चेक तहसीलदार निघासन के हाथों भिजवाया है। श्याम सुंदर निषाद निघासन तहसील के सींगाही कस्बे के ब्लॉक अध्यक्ष थे। मामले में कुल आठ मृतकों में छह को मुआवजा मिला है। जबकि टेनी के ड्राइवर मृतक हरिओम और भाजपा नेता शुभम मिश्र को अभी कुछ नहीं मिला।

इसे भी पढ़ें…

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments