बदलाव आया काम: गांधाीनगर में भाजपा ने 44 में से 40 सीट पर जमााया कब्जा

150
Guaranteed 100% post-prestige and respect to the Muslims associated with the UP BJP!
सक्रिय मुस्लिम कार्यकर्ताओं को कुछ न कुछ मिला है। 2017 से लेकर 2022 में बिना चुनावी संघर्ष के मुस्लिम युवक यूपी में मंत्री बनें।

अहमदाबाद। गुजरात में भाजपा हाईकमान द्वारा किए गए फेरबदल का असर गांधीनगर महानगर पालिका चुनाव में दिखाई दिया। यहां भाजपा ने विपक्ष को चारों खाने चित्त कर दिया। गांधीनगर महानगर पालिका चुनाव के परिणाम सामने आ गए, इसमें भाजपा ने शानदार प्रदर्शन किया है। चुनाव नतीजों में भाजपा को 40 सीटें मिली है, वहीं कांग्रेस को तीन सीट और आम आदमी पार्टी को केवल 1 सीट मिली है। आपकों बता दें कि कि गांधीनगर में कुल 161 उम्मीदवारों ने चुनाव लड़ा, जिसमें बीजेपी और कांग्रेस ने सभी 44 सीटों पर और आप ने 40 सीटों पर चुनाव लड़ा था। तीन नगरपालिकाओं की 78 सीटों के लिए 205 उम्मीदवार मैदान में थे, जिनमें भाजपा के 78, कांग्रेस के 72 और आप के 52 उम्मीदवार शामिल हैं।

भाजपा ने सभी को दी शिकस्त

गुजरात में गांधीनगर नगर निगम चुनाव के परिणाम आज घोषित कर दिए गए। गांधीनगर महानगर चुनाव में 56.24 फीसदी वोट डाले गए थे। इन चुनावों को त्रिकोणीय मुकाबला माना जा रहा था लेकिन भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस का शिकस्त दी है।जैसे—जैसे बढ़त मिलने लगी, वैसे वैसे भाजपा खेमे में जश्न का माहौल बढ़ता गया। 44 में से 40 सीट पर जीत दर्जकर भाजपा ने बड़ा काम किया हैं,क्योंकि इसके पहले हुए निकाय चुनाव में भाजपा को विपक्ष से कड़ी टक्कर मिली थी, इस बार विपक्ष भाजपा के सामने पानी मांगता नजर आया। भाजपा कार्यालय में ढोल ढमाकों के साथ मिठाइयां बांटी जा रही है। गांधीनगर की निवर्तमान महापौर रीता पटेल ने कहा कि गांधीनगर में भारतीय जनता पार्टी की बड़ी जीत हुई है। भाजपा ने विकास के नाम पर वोट मांगे हैं तथा जनता का साथ हमेशा भाजपा के साथ रहा है।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here