Sunday, September 25, 2022
Homeउत्तर प्रदेशड्रीम स्पोर्ट्स अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की दिशा में भारत को...

ड्रीम स्पोर्ट्स अमेरिकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने की दिशा में भारत को देगा सहयोग

कानपुर। भारत की अग्रणी खेल प्रौद्योगिकी कंपनी ड्रीम स्पोर्ट्स ने विकास, नवाचार और संस्कृति के केंद्र के रूप में उभरकर आ रहे भारत को प्रदर्शित करने के लिए भारत सरकार के साथ अपनी साझेदारी की घोषणा की है। 190 प्रतिभागी देशों में सबसे बड़ों में से एक द इंडिया पवेलियन में, कोविड-19 के खिलाफ भारत की असाधारण लड़ाई और वैश्विक व्यापार के प्रमुख केंद्र के रूप में देश के उदय को प्रदर्शित करेगा। ड्रीम स्पोर्ट्स उन व्यापक अवसरों को करेगा जो खेल और प्रौद्योगिकी के अनूठे मिलाप से मिल सकती हैं, साथ ही भारतीय खेल इकोसिस्टम के भीतर डिजिटल प्रौद्योगिकी और नवाचार के माध्यम से बड़े पैमाने पर जो सकारात्मक परिवर्तन लाया जा सकता है उसका जिवंत दर्शन भी यहां कराया जाएगा।

आज द इंडिया पवेलियन के उद्घाटन के अवसर पर श्री उदय शंकर, फिक्की (एफआईसीसीआई) ने कहा, “भारत दुनिया की सबसे तेजी से बढ़ती बड़ी अर्थव्यवस्थाओं में से एक और तीसरा सबसे बड़ा स्टार्टअप इकोसिस्टम है। निवेशकों के लिए इस विकास, अग्रणी अवसरों, व्यावसायिक उपलब्धियों और अत्याधुनिक तकनीकों के साथ सांस्कृतिक विविधता का अनुभव करने के लिए द इंडिया पवेलियन एक वैश्विक मंच होगा। पिछले सात वर्षों में, भारत सरकार के आत्मनिर्भर भारत और डिजिटल इंडिया के दृष्टिकोण ने कई इनोवेशन सेंटर्स और 50,000 से अधिक पंजीकृत स्टार्टअप्स के साथ लाभ प्राप्त किए हैं, जिन्होंने भारत की डिजिटल यात्रा का रोडमैप निर्धारित किया है।

ड्रीम स्पोर्ट्स एक ऐसी सफलता की कहानी है जो वास्तव में उद्योग-केंद्रित सुधारों के प्रभाव, और नया भारत दुनिया में ला सकता है ऐसी डिजिटल दक्षताओं और प्रगति की संभावनाओं का प्रतिनिधित्व करती है। हम सहयोगी के रूप में उनका स्वागत करने के लिए उत्सुक हैं।” इस साझेदारी पर टिप्पणी करते हुए, ड्रीम स्पोर्ट्स के सीईओ और सह-संस्थापक श्री हर्ष जैन ने बताया, “हमें डिजिटलीकरण और आत्मनिर्भरता में भारत सरकार की पहल का समर्थन करने में ख़ुशी हो रही है। खेल और प्रौद्योगिकी के मिलाप के माध्यम से ‘मेक स्पोर्ट्स बेटर’ यानी ‘खेल को बेहतर बनाना’ हमारा दृष्टिकोण है।

हम एक ऐसे इकोसिस्टम के निर्माण में मदद करना चाहते हैं जो पहले से कहीं अधिक गहरे तरीके से फैंस को जोड़कर भारत में खेलों के विकास को प्रोत्साहित करेगा। हम फैंटेसी स्पोर्ट्स उद्योग को बढ़ाकर, कई स्पोर्ट्स कंपनियों में निवेश करके, रोज़गार पैदा करके और सबसे निचले स्तर तक चलायी जा रही हमारी पहल के माध्यम से भारतीय एथलीट्स का समर्थन करके भारत की अर्थव्यवस्था में महत्वपूर्ण योगदान देने की उम्मीद रखते हैं।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments