हरदोई के किसान की 17 वर्षीय बेटी को हैं दुनिया की दुर्लभ बीमारी, जानिए इस बीमारी के बारे में

121
Hardoi farmer's 17-year-old daughter has world's rare disease, know about this disease
केजीएमयू हिमैटोलॉजी विभाग के डॉक्टरों का दावा है कि अमेरिका के बाद इस बीमारी का यह दुनिया में दूसरा मामला है।

हरदोई। यूपी की राजधानी लखनऊ से सटे हरदोई जिले की रहने वाली एक महिला को दुनिया की दुर्लभ बीमारी है। इस बीमारी की वजह से महिला के परिजन काफी परेशान है। डॉक्टरों से मिली जानकारी के अनुसार 17 वर्षीय युवती में हार्मोन और खून संबंधित दुर्लभ राबर्टसोनियन ट्रांसलोकेशन जनित एप्लास्टिक एनीमिया बीमारी मिली है। लखनऊ के केजीएमयू में इलाज के दौरान युवती में इस बीमारी का पता चला।

केजीएमयू हिमैटोलॉजी विभाग के डॉक्टरों का दावा है कि अमेरिका के बाद इस बीमारी का यह दुनिया में दूसरा मामला है। पहला मरीज करीब 37 साल पहले 1984 में अमेरिका के डॉ. पीटर नावेल ने रिपोर्ट किया था। डॉक्टरों का कहना है कि यह नई बीमारी नहीं है लेकिन चौंकाने वाला है कि जेनेटिक बीमारी राबर्टसोनियन ट्रांसलोकेशन से एप्लास्टिक एनीमिया हुआ। यह केस स्टडी जरनल ऑफ क्लीनिकल एंड डायग्नोस्टिक रिसर्च में प्रकाशित हुआ है।

जीनोम और क्रोमोसोम जांच से खुलासा

हरदोई के किसान की 17 साल की बेटी को अचानक कमजोरी महसूस होने लगी। चलना-फिरना दूभर हो गया था। स्थानीय डॉक्टर से इलाज कराने के बाद राहत नहीं मिली तो परिजन दिसंबर 2019 में युवती को केजीएमयू इलाज कराने के लिए लेकर आए। हिमैटोलॉजी विभाग में सीनियर रेजिडेंट रहे डॉ. भूपेंद्र सिंह ने खून से जुड़ी जांच कराई। जांच में एप्लास्टिक एनीमिया की पुष्टि हुई। इसके कारणों का पता लगाने के लिए डॉ. भूपेंद्र ने जीनोम व क्रोमोसोम जांच कराई। वहीं इस बीमारी के इलाज कराने के लिए परिवार को लोग काफी परेशान है।

यह है बीमारी के लक्षण

  • राबर्टसोनियन ट्रांसलोकेशन के कारण हार्मोन संबंधित बीमारियां होती हैं। सेक्सुअल ग्रोथ प्रभावित होती है। मरीज बौनेपन का शिकार हो जाता है।
  • एप्लास्टिक एनीमिया में बोन मैरों की कोशिकाएं काम करना बंद कर देती हैं जिससे शरीर में खून, प्लेटलेट्स व श्वेत रक्त कणिकाओं की कमी हो जाती है। नतीजतन मरीज में कमजोरी, बार-बार संक्रमण और रक्तस्राव जैसी समस्या होती है।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here