पहले नाबालिग बेटी की शादी कराई फिर 50 हजार के लालच में दमाद पर दर्ज करा दी भगाने की रिपोर्ट

198
First got the minor daughter married, then in the greed of 50 thousand, the report of extermination was filed on the son-in-law
युवक और युवती ने बताया कि उनकी शादी तो उनकी घर वालों की मर्जी से हुई थी।

भिंड। मध्य प्रदेश के भिंड जिले से एक हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां लालची मां ने पहले अपनी नाबालिग बेटी की एक युवक से कुछ पैसे लेकर कर दी। इसके बाद उसे दूसरा युवक मिल गया जो उसे उसकी बेटी के बदले पचास हजार देने को तैयार हो गया। इसके बाद लालच में पड़कर कलयुगी मां ने अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज करा दी। यहीं नहीं महिला ने जिस युवक से बेटी का ब्याह किया था उस पर भगाकर ले जाने का आरोप लगा दिया। मंगलवार को जब पुलिस ने नाबालिग और उसके पति को खोजकर थाने लाई तो हकीकत जानकर पुलिस वालों के पैरों के नीचे से जमीन खिसक गई।

युवक और युवती ने बताया कि उनकी शादी तो उनकी घर वालों की मर्जी से हुई थी। यहां तक कि उसकी मां ने उसे शादी के समय आशीर्वाद देते समय फोटो ​भी खिंचाया था। फोटो देखने बाद पुलिस ने केस दर्ज कराने वाली महिला को जब थाने बुलाया तो महिला का सारा झूठ पकड़ा गया।रिश्तों के धोखाधड़ी का यह मामला रावतपुरा थाना क्षेत्र के नरौल गांव का है। गांव की रहने वाली लक्ष्मी बरार ने अपनी नाबालिग बेटी की शादी करा दी। बाद में दूसरी जगह से 50 हज़ार का ऑफर मिला तो फिर खुद ही दामाद के खिलाफ उसे भगा ले जाने का केस दर्ज करा दिया। पुलिस ने जब दामाद और बेटी को गिरफ्तार किया तो बेटी ने बताया कि उसकी मां 50 हजार रुपए के लिए उसकी दूसरी शादी कराना चाहती है, जबकि पहली शादी भी उसने ही कराई थी। पुलिस ने नाबालिग के बयान के आधार पर उसकी मां और पति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

इस विषय में रावतपुरा थाना प्रभारी क्रांति राजपूत के मुताबिक लक्ष्मी बरार ने बीते दिनों शिकायत की थी कि उसकी 15 साल की बेटी को कैथा गांव का रहने वाला रामू शर्मा भगा ले गया। पुलिस ने सोमवार को चौरई के पास से युवक और लड़की को बरामद कर लिया। पुलिस ने नाबालिग से पूछताछ की तो उसने बताया कि मां ने ही जन्माष्टमी से पहले उसकी शादी रामू से कराई है। इस शादी का पूरा खर्च रामू ने उठाया। अब वह दूसरी जगह शादी करने का दबाव डाल रही है। इसके लिए उसने 50 हजार रुपए लिए हैं।

किशोरी ने पुलिस को बताया कि वह अब दूसरी शादी नहीं करना चाहती है। इस पर पुलिस ने लड़की की मां लक्ष्मी को पकड़ा और आस-पास के लोगों से पूछताछ की। पुलिस ने जब पड़ताल की तो दस्तोवजों में किशोरी की उम्र साढ़े 13 साल है। पुलिस ने शादी के दौरान के फोटो बरामद कर लिए हैं। पुलिस ने इस मामले में महिला को बाल विवाह अधिनियम के तहत आरोपी बनाया है। वहीं, रामू शर्मा को पुलिस ने दोषी मानते हुए दुष्कर्म, एससी-एसटी और पॉक्सो एक्ट का मामला दर्ज कर लिया। इसके अलावा पुलिस अब 50 हजार रुपए में दूसरी शादी कराने वाले एंगल से भी जांच कर रही है।

पुलिस के मुताबिक इस पूरे मामले की जानकारी महिला ने परिवार और पति को नहीं दी। महिला लहार में बस स्टैंड के पास बायपास रोड पर किराए के मकान में रहती है। उसकी दो बेटी और दो बेटे हैं। पति, ग्वालियर में रहकर मजदूरी करता है। यह महिला ने परिवार वालों से छिपकर बड़ी बेटी की शादी कर दी थी। इसके बाद परिवार वालों को लड़की भाग जाने की कहानी सुनाई।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here