सड़क हादसे में एक साथ भाई-बहन की मौत से मां का कलेजा हुआ छलनी

463
Due to the death of brother and sister together in a road accident, the mother's heart was sieved
छिमारा रोड से जसवंतनगर की तरफ जा रहे तेज रफ्तार डंपर ने तीनों को टक्कर मार दी।

इटावा। यूपी के इटावा जिले में मंगलवार को हुए हादसे में एक साथ भाई बहन की मौत होने से मां कलेजा छलनी हो गया। जो मां अपने -बाप अपने के अच्छे भविष्य के लिए सपने देख रही थी, अचानक उनके बच्चों की हादसे में हुई मौत की खबर मिलने से घर में मातम पसर गया। परिवार के सभी लोग रो-रोकर बेहाल हुए। पिता ने बिलखते हुए किसी तरह अपने कलेजों के टुकड़ों को मुखाग्नि दी। जब पिता अपने बच्चों को अंतिम विदाई दे रहा था वहां मौजूद सभी लोगों की आंखों से आंसू रूकने का नाम नहीं ले रहे थे।

यह दिल दहलाने वाला हादसा इटावा के जसवंतनगर कोतवाली क्षेत्र के हरकूपुर गांव के पास हुआ। हादसे के शिकार तीनों लोग सड़क किनारे खड़े होकर बात कर रहे थे, तभी तेज रफ्तार डंपर ने तीनों को कुचलते हुए आगे बढ़ गया। इस हादसे में भाई बहन की तो अस्पताल पहुंचते-पहुंचते मौत हो गई, जबकि तीसरे घायल युवक की सैफई मेडिकल कॉलेज में इलाज चल रहा है। पुलिस ने मृतकों की शिनाख्त कर जानकारी परिजनों को दी।

अलीगढ़ में पीएम बोले-दुर्भाग्‍य है कि राष्‍ट्रनायकों से देश की पीढ़ियों को परचित नहीं कराया गया

इटावा के गढ़ी जालिम गांव निवासी रामविलास बघेल गांव में कंपाउंडर है। उनकी बेटी राखी (21) बीएससी तृतीय वर्ष की छात्रा और बेटा हिमांशू (18) कक्षा नौ का छात्र था। बड़ा बेेटा रिषी इटावा शहर स्थित एक डॉक्टर के पास प्रैक्टिस करता है। मंगलवार दोपहर को राखी भाई हिमांशू के साथ रायपुर स्थित आईटीआई में प्रवेश के लिए फार्म खरीदने बाइक से आई थी।

फार्म लेकर जब घर लौट रहे थे उसी समय दोनों हरकूपुर गांव के पास सड़क पर खड़े होकर कुरसेना गांव के रहने वाले एक रिश्ते के भाई राजकमल का इंतजार करने लगे। कुछ देर बाद जब राजकमल उन लोगों के पास आया तो सभी लोग रोड के किनारे खड़े होकर बाते करने लगे, इसी दौरान छिमारा रोड से जसवंतनगर की तरफ जा रहे तेज रफ्तार डंपर ने तीनों को टक्कर मार दी।

तेज रफ्तार डंपर की टक्कर से तीनों लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को सैफई ले गई। जहां पर राखी व हिमांशू की मौत हो गई, जबकि घायल राजकमल की हालत गंभीर बनी हुई है। पुलिस ने बाइक व मोबाइल के आधार पर मृतकों की पहचान कर जानकारी परिजनों को दी।

भाई- बहन की मौत की सूचना घर पर पहुंचते ही रामविलास के घर में कोहराम मच गया। परिजन रोते-बिलखते सैफई पहुंचे। कोतवाली प्रभारी अमर पाल सिंह ने बताया कि हादसा कर भागे डंपर व चालक की तलाश की जा रही है। चहीं देर शाम परिजनों ने पीएम के बाद अपने बच्चों को अंतिम संस्कार कर दिया।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here