दिल्ली में बारिश ने तोड़ा 121 सालों का रिकॉर्ड, पानी-पानी हुई देश की राजधानी

451
Rain breaks the record of 121 years in Delhi, the capital of the country became water-water
390 मिमी बारिश हुई है, जो 77 सालों में सबसे ज्यादा है। राजधानी में पिछले 4 महीनों में 1139 मिमी बारिश हुई है, जो पिछे 46 सालों में सर्वाधिक है।

नईदिल्ली। देश की राजधानी दिल्ली में मौमस इस मेहरबान हुआ है। शनिवार सुबह से शुरू हुई बारिश ने अब तक कई रिकॉर्ड ध्वस्त कर दिए। शनिवार सुबह से ही लगातार बारिश हो रही है। इससे सिर्फ सड़कें ही नहीं, एयरपोर्ट पर भी पानी भर गया है। कई फ्लाइट्स को डाइवर्ट करना पड़ा है।जलभराव की वजह से दिल्ली की तमाम सड़कों पर बाढ़ जैसी स्थिति हो गई, कई इलाकों से गाड़ियों के फंसने और ट्रैफिक में फंसने के समाचार मिल रहे है। मौसम विभाग के मुताबिक शनिवार को हुई बारिश ने तमाम रिकॉर्ड तोड़ दिये हैं। दिल्ली में पिछले 24 घंटों में जितनी बारिश हुई है, उतनी पिछले 121 सालों में नहीं हुई थी। सितंबर महीने में यहां 390 मिमी बारिश हुई है, जो 77 सालों में सबसे ज्यादा है। राजधानी में पिछले 4 महीनों में 1139 मिमी बारिश हुई है, जो पिछे 46 सालों में सर्वाधिक है।

यह हैं ताजा हालात

भारी बारिश और जल भराव की वजह से इंदिरा गांधी हवाईअड्डा (टर्मिनल-3) पर भी पानी भर गया है, जिससे कई उड़ानें प्रभावित हुईं। विस्तारा, स्पाइसजेट और इंडिगो ने यात्रा अपडेट जारी किया है, जिसमें दिल्ली में भारी बारिश के कारण यात्रियों को सलाह दी जाती है कि वे हवाई अड्डे की यात्रा के लिए ज्यादा समय लेकर निकलें। इंद्रलोक के पास जखीरा अंडरपास को बंद कर दिया गया है। किसी भी तरह के जाम को दूर करने के लिए ट्रैफिक पुलिसकर्मी लगातार ट्रैफिक को डायवर्ट कर रहे हैं। ।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को दिल्ली -एनसीआर, पंजाब और राजस्थान में भारी के आसार हैं। इससे पहले मौसम विज्ञान विभाग ने दिल्ली, एनसीआर (बहादुरगढ़, गुरुग्राम, मानेसर, फरीदाबाद, बल्लभगढ़) के कई स्थानों पर और आसपास के इलाकों में तेज हवाओं और मध्यम से भारी बारिश की चेतावनी जारी की थी। मौसम विभाग के मुताबिक पूर्वी राजस्थान और बंगाल की खाड़ी में बन रहे कम दबाव के सिस्टम की वजह से दिल्ली में 17 और 18 सितंबर को फिर से भारी बारिश हो सकती है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here