Tuesday, October 4, 2022
Homeउत्तर प्रदेशयूपी मिशन-2022: विपक्ष के तमाम अभियानों की यूं हवा निकालने में जुटी...

यूपी मिशन-2022: विपक्ष के तमाम अभियानों की यूं हवा निकालने में जुटी भाजपा,तैयारियां तेज

लखनऊ। यूपी विधानसभा चुनाव की तैयारियों में जुटी भाजपा अब अपना बूथ मजबूत कर विपक्ष के तमाम अभियानों की हवा निकालने में जुट गई है। दरअसल यूपी में छह माह बाद होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर भाजपा ने माइक्रो यानी जमीनी स्तर की रणनीति पर काम करना शुरू कर दिया है। जानकारी के मुताबिक भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्‌डा 11 सितंबर को बूथ विजय अभियान का शुभारंभ करेंगे।

बताया गया कि नड्‌डा 27,700 शक्ति केंद्रों पर मौजूद पार्टी कार्यकर्ताओं को चुनावी रणनीति बताएंगे। बताते चलें कि पहले कुछ बूथों को मिलाकर सेक्टर बनाए जाते थे, लेकिन अब 5 से 6 बूथ मिलाकर एक शक्ति केंद्र प्रमुख बनाए गए हैं। अब उनको नया नाम शक्ति केंद्र दिया गया गया है। बताया गया कि यह कार्यक्रम 23 अगस्त को प्रस्तावित था। मगर पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह के निधन के कारण से यह कार्यक्रम स्थगित कर दिया गया था।

पार्टी सूत्रों का मानना है कि इस अभियान के जरिए भाजपा अपने बूथ को मजबूत कर विपक्ष के तमाम अभियानों की हवा निकाल देगी। बताया गया कि इस अभियान के तहत लोगों को सरकार की नीतियों को समझाने के साथ—साथ मतदान के दिन वोटर्स को मतदान केंद्र तक ले जाने की जिम्मेदारी कार्यकर्ता निभाएंगे। बताया गया कि इस दौरान पार्टी के सभी बड़े पदाधिकारी और सरकार के मंत्री अगल-अलग जगहों से इस अभियान में हिस्सा लेंगे।

वहीं प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह, प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल के अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी इस अभियान में शामिल होंगे। साथ ही दोनों उप-मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या और डॉ दिनेश शर्मा भी बूथ विजय अभियान के शुभारम्भ के अवसर पर अपने-अपने शक्ति केंद्र पर मौजूद रहेंगे। बताया गया कि बूथ विजय अभियान की शुभारंभ के अवसर पर प्रदेश के सभी शक्ति केंद्रों पर बूथ सत्यापन अधिकारी, शक्ति केंद्र प्रभारी, शक्ति केंद्र संयोजक, बूथ अध्यक्ष और बूथ समिति के सदस्य मौजूद रहेंगे।

इसके साथ ही उस शक्ति केंद्र के तहत निवास करने वाले सांसद, विधायक, अन्य जनप्रतिनिधि व पार्टी पदाधिकारी भी मौजूद रहेंगे। बताया गया कि पार्टी द्वारा बूथ विजय अभियान के शुभारम्भ कार्यक्रम के लाइव प्रसारण के भी प्रबंध किए जाएंगे। वहीं सोशल मीडिया के सभी डिजिटल माध्यम से लाइव प्रसारण कराने की व्यवस्था पार्टी के आईटी विभाग को दी गई है।

बताया गया कि 11 सितंबर से 30 अक्टूबर तक बूथ स्तर पर समिति का सत्यापन 100 फीसदी किया जाना है। इसके बाद 3 चरणों में इस अभियान को आगे बढ़ाया जाएगा। मिली जानकारी के मुताबिक बूथ विजय अभियान के पहले चरण में बूथ स्तर पर कार्यकर्ताओं का सत्यापन होगा।

वहीं दूसरे चरण में पन्ना प्रमुख बनाने का अभियान चलेगा। बताया गया कि पन्ना प्रमुख मतदान के लिए लोगों को बूथ पर पहुंचने के लिए प्रेरित करेंगे। वहीं अभियान का तीसरा चरण मतदान है। बताया गया कि बूथ पर चुनाव जीतने के लिए चुनाव के अंतिम दिन तक बूथ स्तर पर पूरी तैयारी की जाएगी।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments