Tuesday, October 4, 2022
Homeउत्तर प्रदेशमां के साथ सो रहे बच्चे को चुराकर महिला तांत्रिक को बेचने...

मां के साथ सो रहे बच्चे को चुराकर महिला तांत्रिक को बेचने जा रही थी, पुलिस पांच घंटे में पकड़ा

गोरखपुर। यूपी के गोरखपुर जिले से एक महिला द्वारा एक बच्चे को चुरा कर बेचने का प्रयास किया गया। जानकारी होने पर पुलिस ने पांच घंटे में महिला को बच्चे समेत बरामद कर लिया। यह मामला जिले चौरीचौरा थाना क्षेत्र का है। यहां के ग्राम पंचायत शिवपुर के टोला बिंदटोलिया में बुधवार रात बरामदे में अपने दो बच्चों के साथ सो रही थी। इस दौरान एक महिला ने छह बर्षीय बच्चे को चुराकर फरार हो गई। जैसे ही महिला की नींद खुली तो उसने देखा कि उसका एक बच्चा गायब था। महिला ने पहले आसपास बच्चे को तलाश किया फिर उसने बच्चा चोरी होने का शोर मचाना शुरू कर दिया, फिर पूरे गांव में बच्चे की तलाश होने लगी। तभी इसकी सूचना पुलिस कंट्रोल रूम व चौरीचौरा पुलिस को दिया गया। सूचना पाकर पुलिस ने गांव से लेकर चौरीचौरा तक रास्ते में लगे कई सीसीटीवी कैमरे के फुटेज को खंगाला। जिसमें महिला बच्चे को लेकर जाती दिखी।

पुलिस ने गुरुवार सुबह करीब सात बजे चौरीचौरा सीमा के ग्राम पंचायत देवीपुर से महिला को बच्चे के साथ बरामद कर लिया। पुलिस ने पांच घंटे में बच्चे को सकुशल बरामद कर आरोपित महिला को गिरफ्तार करने कर लिया। पुलिस की तत्परता पर एसएसपी ने चौरीचौरा पुलिस को 21 हजार रुपये का इनाम देने की घोषणा किए। एसएसपी ने बताया कि महिला बच्चे को किसी तांत्रिक के पास बेचने के लिए लेकर जा रही थी। पुलिस घटना से संबंधित अन्य आरोपी को पकड़ने के प्रयास में जुटी है।

चौरीचौरा थाना क्षेत्र के शिवपुर बिंदटोलिया में बुधवार की रात मे रबीना पत्नी बृजेश निषाद अपने छह बर्षीय बेटा प्रतीक व तीन बर्षीय बेटा सिद्धार्थ के साथ बरामदे मे सोई हुई थी। रबीना रात मे करीब दो बजे उठी तो देखा उसका बड़ा बेटा प्रतीक बिस्तर पर नहीं है। पहले उसने आस- पास खोज-बीन किया फिर परिवार के अन्य लोगों को सूचना दी। रबीना के ससुर जंगली निषाद ने बच्चा चोरी की जानकारी पुलिस को दी।

जानकारी होते ही चौरीचौरा पुलिस ने बच्चे को खोजना शुरू किया। माईधिया पोखरी के पास एक दुकानदार के सीसीटीवी कैमरे में रात के करीब ढाई बजे बच्चे को साथ ले जाते हुए एक महिला दिखी। वहीं बंजारी देवी मंदिर के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में तीन बजे महिला पैदल बच्चे को ले जाती दिखी। गुरुवार की सुबह 6 बजे भोपा बाजार चौराहे कै पास बच्चे को  गोरखपुर ले जाने के लिए टैंपो का इंतजार कर रही थी। पुलिस को देखकर महिला छिप गई। फिर टैंपो से सुबह करीब सात बजे देवीपुर गांव में बच्चे को ले जाकर छिप गई। पुलिस ने वहीं महिला को बच्चे के साथ बरामद कर लिया।

तांत्रिक को बेचने की थी तैयारी

पूछताछ में आरोपित महिला सविता पत्नी श्रीराम निवासी करजहा घाट थाना गौरीबाजार, जिला देवरिया ने बताया कि उसका मायका ग्राम शिवपुर में है। वह सहजनवां में किराये के मकान में रहती है। जंगली निषाद जो चौरीचौरा कांड के स्वतंत्रता संग्राम सेनानी के परिजन हैं। उन्होंने कहा कि मेरे घर पर आरोपी महिला सविता करीब 20 दिन पहले पचास हजार रुपया उधार मांगने आई थी। जिसको पैसा देने से मना कर दिया।एसएसपी ने बताया कि महिला रात मे कई बार तांत्रिक से बात कर रही थी। महिला बच्चा को चुराकर किसी तांत्रिक को बेचना चाहती थी। पुलिस इसकी पड़ताल कर रही है।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments