करोड़पति निकली महिला सरपंच, दस्तावेज की पड़ताल करते-करते थक गए अफसर

541
Woman sarpanch turned out to be a millionaire, officers tired while scrutinizing documents
ऐसे में अब तक करीब 19.20 करोड़ रुपए की संपत्ति सामने आ चुकी है।

रीवा। मध्यप्रदेश का रीवा जिला सफेट टाइगर के लिए जाना जाता था। इस जिले मंगवार को एक हैरान करने वाली खबर सामने आई हैं। रीवा जिले के बैजनाथ गांव की महिला सरपंच सुधा सिंह की संपत्ति की जांच पिछले दो दिनों से चल रही थी जो बुधवार को पूरी हो गई है। महिला सरपंच के पास 19 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति मिली है। आधी रात सर्चिंग के दौरान लोकायुक्त टीम को 72 जमीनों के दस्तावेज हाथ लगे। रजिस्ट्री के पन्ने पलटते-पलटते लोकायुक्त के अफसर थक गए। स्टांप शुल्क के अनुसार इन जमीनों की कीमत करीब 8 करोड़ रुपए है।

मंगलवार शाम पांच बजे तक 12 करोड़ से अधिक की संपत्ति का खुलासा हुआ था। इसमे साढ़े तीन करोड़ रुपए के दो आलीशान बंगले शामिल थे। एक बंगला एक एकड़ में बना है, जिसमें गार्डन और स्विमिंग पूल भी है। दो घर और दो क्रशर को मिलाकर चारों ठिकानों से 30 गाड़ियां मिली हैं। घर से सोने-चांदी के 20 लाख रुपए के जेवर भी मिले थे।

लोकायुक्त एसपी राजेन्द्र कुमार वर्मा ने बताया कि मंगलवार को दोनों जगहों पर दबिश कार्रवाई में 40 सदस्यीय दल लगाया गया था। शहर के शारदापुरम कॉलोनी स्थित घर में डीएसपी डीएस मरावी के नेतृत्व में सुबह 4 बजे से लेकर दोपहर 3 बजे तक कार्रवाई की गई थी।

बैजनाथ गांव में डीएसपी प्रवीण सिंह परिहार के नेतृत्व में निरीक्षक परमेन्द्र सिंह परिहार की टीम सुबह 4 बजे से रात 10.30 बजे तक दस्तावेजों की जांच कर रही थी। शाम 6 बजे तक 36 भूखंडों की 12 रजिस्ट्रियों की कीमत 80 लाख थी, लेकिन आधी रात तक 72 भूखंडों के दस्तावेज मिले। जिनकी काउंटिग कराने पर स्टांप शुल्क के आधार पर 8 करोड़ रुपए की रजि​स्ट्री निकली है। ऐसे में अब तक करीब 19.20 करोड़ रुपए की संपत्ति सामने आ चुकी है।

लोकायुक्त एसपी राजेन्द्र कुमार वर्मा ने बताया- सर्चिंग में मिले अब तक के दस्तावेज, जेवर आदि जब्त करके एफआईआर दर्ज कर ली गई है। ऐसे में ग्राम पंचायत बैजनाथ की महिला सरपंच आरोपी सुधा सिंह पति जिवेन्द्र सिंह के खिलाफ 1988 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा के तहत मामला दर्ज किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here