Friday, September 30, 2022
Homeउत्तर प्रदेशश्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाने मथुरा पहुंचे 30 लाख से अधिक लोग, सीएम भी...

श्रीकृष्ण जन्मोत्सव मनाने मथुरा पहुंचे 30 लाख से अधिक लोग, सीएम भी उतारेंगे आरती

म​थुरा। भगवान श्रीकृष्ण की जन्मस्थली मथुरा समेत पूरी दुनिया में आज श्रीकृष्ण जन्माष्टमी की धूम है। घर— घर भगवान की श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव मनाने की तैयारी है। कान्हा के जन्मोत्सव का साक्षी बनने के लिए लाखों भक्त मथुरा पहुंचे है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी श्री कृष्णजन्मोत्स्व में शामिल होने के लिए मथुरा पहुंचे हैं।

इस अवसर पर राधारमण मंदिर में सेवायतों ने औषधियों से निर्मित पंचामृत से ठाकुरजी का अभिषेक किया। पंचामृत में मनोर, दूध-दही, शहद और बूरा के साथ जड़ी बूटियों का प्रयोग किया गया। प्राचीन शाहजी मंदिर में सेवायत गोस्वामियों ने ठाकुरजी का महाभिषेक दूध, दही, शहद, बूरा, इत्र से किया। इस दौरान मंदिर परिसर ठाकुरजी के जयकारों से गुंजायमान हो गया।मथुरा के द्वारिकाधीश मंदिर में भी पूरे विधि विधान से कान्हा जन्मोत्सव मनाया जा रहा है। यहां सेवायतों ने मंदिर के पट खुलते ही सुबह भगवान द्वारिकाधीश का पंचामृत अभिषेक किया। इस अवसर पर द्वारिकाधीश के दर्शन करने के लिए भक्तों की भारी भीड़ उमड़ी है। उधर, राधा दामोदर मंदिर में भी जन्मोत्सव की धूम है।

ठाकुर जी का हुआ आकर्षक श्रृंगार

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी के पावन पर सेवायतों द्वारा ठाकुरजी का भव्य श्रृंगार किया गया है। श्रीबांकेबिहारी को सुंदर आकर्षित पोशाक धारण कराया गया है। पीत रंग की इस पोशाक में ठाकुर जी आज भक्तों को दर्शन दे रहे है।मंदिर के सेवायत रघु गोस्वामी ने बताया कि पीत रंग की इस पोशाक में कई रत्न और नगों की कारीगरी की गई है। रविवार की शाम यह पोशाक मंदिर के सेवायतों को मिली है। ठाकुरजी के एक भक्त के द्वारा इस पोशाक को अर्पित किया गया है।

ठाकुर श्रीबांकेबिहारी मंदिर में सोमवार को रात 12 बजे ठाकुर बांकेबिहारीजी महाराज के श्रीविग्रह का अभिषेक होगा। 1:56 बजे बाद मंगला आरती के दर्शन होंगे। उसके बाद 31 अगस्त की सुबह 2 बजे से 5:30 तक श्रद्धालु दर्शन लाभ ले सकेंगे तथा नंदोत्सव दर्शन प्रात: 7:45 से 12 बजे तक होंगे।

शाम को लगेगा आरती भोग

श्रीकृष्ण जन्मोत्सव के दौरान शाम 7:30 बजे आरती और भोग होगा। रात 10 बजे जागरण की पहली झांकी खुलेगी और 11:45 पर ठाकुर जी के जन्म का अभिषेक होगा। इससे पहले वृंदावन में सप्त देवालयों राधारमण, राधा दामोदर, शाह बिहारी जी में शंख और घंटे घड़ियाल की ध्वनि के बीच भगवान का पंचामृत अभिषेक किया गया। ठाकुर राधारमण मंदिर में सेवायतों की ओर से औषधियों से निर्मित 751 किलो पंचामृत से अभिषेक किया गया।

प्रभु के दर्शन को 30 लाख लोग पहुंचे

श्री कृष्ण के जन्मस्थान के गर्भगृह को इस बार जेल का रूप दिया गया है। मंदिर के सचिव के मुताबिक, भगवान के दर्शन के लिए करीब 30 लाख लोग मथुरा-वृंदावन आ चुके हैं। लोग सुबह से ही गृर्भ गृह में दर्शन कर रहे हैं। रात में भीड़ बढ़ने की ज्यादा संभावना है।वहीं, श्री कृष्ण जन्मस्थान से शुरू हुई शोभायात्रा श्री पोतरा कुंड, मनोहरपुरा, गोविंदनगर, संगीत सिनेमा, डीग गेट होते हुए वापस श्री कृष्ण जन्मस्थान के मुख्य द्वार पर पहुंच। गई है। इसमें बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए। उर्जा मंत्री श्रीकांत शर्मा ने ढोल-नगाड़े बजाए।

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments