Friday, September 30, 2022
Homeउत्तर प्रदेशदुष्कर्म के आरोपित सिपाही ने जेल जाने से बचने दुष्कर्म पीड़िता से...

दुष्कर्म के आरोपित सिपाही ने जेल जाने से बचने दुष्कर्म पीड़िता से रचाई शादी, जानिए पूरा मामला

प्रयागराज। संगमनगरी प्रयागराज में दुष्कर्म के आरोपित एक सिपाही जेल जाने से बचने के लिए दुष्कर्म पीड़िता महिला सिपाही के साथ सात फेरे ले लिए। मालूम हो कि​ सिपाही ने महिला सिपाही से पहले दोस्ती की फिर उसे धोखे से कोल्डड्रिंक में नशीली गोली पिलाकर अपनी हवश मिटाई थी। इसके बाद जब महिला सिपाही ने विरोध जताया तो आरोपित ने शादी करने का वादा करके उससे शांत करा दिया था।

बाद में जब महिला सिपाही ने शादी का दबाव बनाया तो आरोपित ने उसके उसके अश्लील वीडियो और फोटो दिखाकर उसे शांत रहने के लिए ब्लैकमेल करने लगा। इसके बाद महिला सिपाही ने थाने में जाकर एफआईआर दर्ज कराई थी। मामला दर्ज होने के बाद आरोपित सिपाही ड्यूटी से फरार हो गया। इसके बाद पुलिस से बचने के लिए बुधवार को दोनों ने आर्य समाज से शादी करके फोटो सोशल मीडिया वायरल कर दिया।

भगवान ऐसी मां किसी को नहीं दें, बच्ची भूख से मर गई, मां शराब के नशे में पड़ी रही

मालूम हो कि प्रयागराज के पासपोर्ट सेल में तैनात महिला सिपाही ने कुछ दिन पहले एसएसपी के फोटोग्राफी सेल में तैनात सिपाही पंकज यादव के खिलाफ कर्नलगंज थाने में दुष्कर्म की रिपोर्ट दर्ज कराई थी। महिला सिपाही ने आरोप लगाया था कि पंकज ने उससे दोस्ती की और घर आने जाने लगा। एक दिन पुलिस लाइन स्थित क्वार्टर पर पंकज ने नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। वीडियो भी बनाया। उसने शादी का वादा किया तो वह चुप रह गई। बाद में पंकज शादी करने से पीछे हटा गया। इसके बाद महिला सिपाही ने काफी प्रयास किया लेकिन पंकज नहीं माना तो उसने कर्नलगंज थाने में दुष्कर्म समेत कई धाराओं में रिपोर्ट दर्ज करा दी।

आधी रात को प्रेमिका के घर मिलने पहुंचे प्रेमी को घर वालों ने पीट-पीटकर सुलाई मौत की नींद

इसके बाद पंकज फरार हो गया। पुलिस उसके पैत्रिक घर गाजीपुर भी गई लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला था। बुधवार को दिन में महिला सिपाही और पंकज की शादी के फोटो वायरल हुए तो पता चला कि दोनों ने आज चौक स्थित आर्य समाज मंदिर में शादी कर ली। महिला सिपाही और पंकज ने अभी इस संबध में कोई बयान नहीं दिया है। दूसरी ओर इंस्पेक्टर कर्नलगंज सुरेश सिंह ने बताया कि शादी से एफआईआर में कोई फर्क नहीं पड़ेगा। गुरुवार को महिला सिपाही का 164 का बयान होना है। अगर वह पंकज के पक्ष में बयान देती है तो एफआईआर लगा दी जाएगी।

इसे भी पढ़ें… 

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments