Tuesday, September 27, 2022
Homeजॉब/एजुकेशनसुप्रीम कोर्ट ने दिया एक और अधिकार, अब लड़कियां दे सकेंगी एनडीए...

सुप्रीम कोर्ट ने दिया एक और अधिकार, अब लड़कियां दे सकेंगी एनडीए की परीक्षा

नईदिल्ली। सुप्रीम कोर्ट में महिला अभ्यर्थियों को एनडीए परीक्षा में बैठने की अनुमति देने की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने बुधवार को सेना को फटकार लगाई। सुनवाई के दौरान सेना ने अपना पक्ष रखते हुए कहा कि यह एक नीतिगत निर्णय है, जिस पर जस्टिस संजय किशन कौल और हृषिकेश रॉय की खंडपीठ ने कहा कि यह नीतिगत निर्णय “लिंग भेदभाव” पर आधारित है। जिसके बाद कोर्ट ने अपना अंतरिम आदेश पारित करते हुए महिलाओं को 5 सितंबर को होने वाली राष्ट्रीय रक्षा अकादमी (एनडीए) परीक्षा में शामिल होने की अनुमति देने के निर्देश दिए और कहा कि दाखिले कोर्ट के अंतिम आदेश के अधीन होंगे। कोर्ट के फैसले से महिला अभ्यर्थियों में खुशी की लहर है।

याचिकाकर्ता ने इसे बताया मौलिक अधिकारिक का उल्लंघन

याचिका में कहा गया है कि 10+2 स्तर की शिक्षा रखने वाली पात्र महिला अभ्यर्थियों को उनके लिंग के आधार पर राष्ट्रीय रक्षा अकादमी और नौसेना अकादमी परीक्षा देने के अवसर से वंचित कर दिया जाता है। जबकि, समान रूप से 10+2 स्तर की शिक्षा वाले पुरुष उम्मीदवारों को परीक्षा देने और अर्हता प्राप्त करने के बाद भारतीय सशस्त्र बलों में स्थायी कमीशंड अधिकारी के रूप में नियुक्त होने के लिए प्रशिक्षित होने के लिए राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में शामिल होने का अवसर मिलता है। यह सार्वजनिक रोजगार के मामलों में अवसर की समानता के मौलिक अधिकार और लिंग के आधार पर भेदभाव से सुरक्षा के मौलिक अधिकार का स्पष्ट उल्लंघन है।

 

युवाओं की पहली पसंद है एनडीए

आपकों बता दें कि इस समय युवाओं की पहली पसंद एनडीए है। अभी तक इस पर केवल पुरुष अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल हो सकते थे। अब सुप्रीम कोर्ट के फैसला के बाद महिला अ​भ्यर्थियों के इस परीक्षा में बैठने का मौका मिलेगा। भारतीय सेना से जुड़ा गौरव व सम्मान युवाओं को अपनी ओर आकर्षित करता है।

एक तरफ जहां छात्र ग्रेजुएशन के लिए लाखों रुपए फीस देते हैं तो वहीं आईएमए आदि में NDA कैडेट्स को प्रशिक्षण के दौरान  ही वेतन, भत्ते व अन्य लाभ मिलने लगते हैं। साथ ही 12वीं के बाद ही भारतीय सेना में अधिकारी स्तर की नौकरी इसे आज के समय की सबसे बेहतरीन नौकरी बनाती है। इसके अलावा हर दिन नई चुनौतियां, एडवेंचर व देशप्रेम के जज्बे के कारण यह वर्तमान समय में युवाओं की पहली पसंद है।

इसे भी पढ़ें…

Google search engine
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments