कोरोना संकट टला तो आधी क्षमता के साथ खुले स्कूल, इन नियमों का करना पड़ रहा पालन

161
If the corona crisis is averted, schools open with half the capacity, these rules have to be followed
बलिया जिले में स्कूलों में छात्रों के स्कूल पहुंचने पर उन्हें मास्क लगाने के सही तरीके बताए गए।

लखनऊ। प्रदेश में कोरोना महामारी का संकट कम हुआ तो सरकार ने सोमवार से स्कूलों को आधी क्षमता से खोलने का फैसला किया। सरकार से हरी झंडी मिलने के बाद प्रदेश के स्कूल आधाी क्षमता के साथ खुलने लगे। हालांकि पहले की तरह स्कूलों में चहल-पहल नहीं सुनाई देगी, क्योंकि अभी भी कोरोना की तीसरी लहर का खतरा मंडरा रहा है।

ऐसे में छात्रों को मास्कू और सुरक्षित शारीरिक दूरी का पालन करना होगा। छात्रों के स्कूलों में प्रवेश के समय स्क्रिनिंग की जा रही है। वहीं छात्रों को एक दूसरे से अपनी चीजे साझा नहीं करने की हिदायत दी जा रही है। मालूम हो कि कि कई राज्यों में दो अगस्त से स्कूल खोले जा चुके हैं।छात्र नियमों का पालन करते हुए स्कूल जा रहे है।

बलिया जिले में स्कूलों में छात्रों के स्कूल पहुंचने पर उन्हें मास्क लगाने के सही तरीके बताए गए। इसके साथ ही उनके हाथों को सैनिटाइज किया गया। वहीं प्रयागराज जिले में थर्मल स्क्रिनिंग के बाद छात्रों को स्कूल में प्रवेश दिया गया।

स्कूल खुलने के दौरान कोरोना गाइड लाइनका पालन कराया जा रहा है। सभी बच्चे और कर्मचारी मास्क लगाए हुए हैं। कक्षा में भी छात्रों को सोशल डिसटेंसिंग के साथ बैठाया गया। पहले दिन कम संख्या में छात्र स्कूल पहुंचे। वहीं, यह भी देखने में आ रहा कि कई जगह छात्रों ने मास्क नहीं लगाया हुआ था।

वहीं, यूपी में स्कूलों ने एसओपी के तहत अपनी तैयारियां पूरी कर लेने का दावा किया है। इसके साथ ही कक्षाओं और परिसर का सैनिटाइजेशन किया गया है। छात्रों को खड़े होने व बैठने के लिए चिह्न बनाए गए हैं। अभिभावकों के साथ स्टाफ को भी दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। शासन की ओर से तय समयसारिणी में कॉलेज अपने टाइम टेबल व समय अनुसार कक्षाएं लगाएंगे। ऐसे में कोई एक तो कोई दो शिफ्ट में स्कूल खोलेगा।

दो शिफ्ट में लगेंगी कक्षाएं

शासन ने स्कूलों में शुरू होने वाली ऑफलाइन कक्षाओं के लिए दो शिफ्ट तय की हैं। इसमें कक्षा नौ से 12वीं तक के छात्र आधी क्षमता में सुबह 8 से 12 और दोपहर 12:30 से 4:30 बजे तक आएंगे। हालांकि ,स्कूल अपने संसाधन व छात्र संख्या के अनुसार अलग-अलग समय पर कक्षाएं चलाएंगे।

इसे भी पढ़ें…

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here