मुफ्त के पेट्रोल के लिए टूट पड़े भाजपाई , भीड़ को काबू करने पुलिस ने उठाई लाठी

240
BJP broke down for free petrol, police raised sticks to control the crowd
कौशांबी में मुफ्त के पेट्रोल के लिए मची लूट।

कौशांबी। यूपी के कौशांबी जिले में रविवार को उस समय हालात तनाव पूर्ण हो गए जब भाजपा विधायक द्वारा तिरंगा यात्रा में शामिल होने वाले लोगों के लिए बांटने के लिए रखे पेट्रोल के लिए भीड़ उस पर टूट पड़ी। इसके बाद हालात को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठी भाजनी पड़ी दरअसल भाजपा विधायक ने स्वतंत्रता दिवस की 75वीं वर्षगांठ पर तिरंगा यात्रा निकालने की तैयारी की थी।

इस यात्रा में शामिल होने वाले बाइक चालकों को विधायक द्वारा एक -एक लीटर पेट्रोल बांटना महंगा पड़ गया। दरअसल यात्रा शुरू होने से पहले मुफ्त में पेट्रोल लूटने के लिए बाइक चालक टूट पड़े, इससे स्थिति बेकाबू हो गई। लूट के दौरान कोई हादसा न हो जाए, इसलिए स्थिति को काबू में करने के लिए पुलिस को लाठीचार्ज करनी पड़ी। लाठीचार्ज और भगदड़ के चलते स्वतंत्रता दिवस पर लहराए जाने वाले झंडे भी जमीन पर लोगों के पैरों के नीचे आ गए। पुलिस की सतकर्ता की वजह से कोई बड़ा हादसा नहीं हो सका।

महंगे पेट्रोल के फेर में मची भगदड़

दरअसल इस लूट की मुख्य वजह बनी पेट्रोल की महंगाई। महंगे होते पेट्रोल के दाम के कारण जिने लोग भी जुटे थे, सब अधिक से अधिक पेट्रोल लेने के चक्कर में पड़ गए। जब कार्यकर्ताओं ने जमीन पर पेट्रोल देखा तो सब एक के ऊपर एक टूट पड़े और छीना- झपटी करने लगे।

आपकों बता दें कि कौशांबी के चायल विधानसभा क्षेत्र से भाजपा के विधायक संजय गुप्ता ने रविवार 15 अगस्त को अपराह्न तीन बजे तिरंगा यात्रा निकाली। इस तिरंगा यात्रा में शामिल होने आने वाले लोगों की मानें तो भीड़ जुटाने के लिए विधायक की तरफ से बाइकर्स को एक-एक लीटर पेट्रोल फ्री में बांटने की व्यवस्था की गई थी। तेल की बोतल लेने के लिए भाजपाई एक दूसरे के ऊपर गिरने लगे। भीड़ इतनी बेकाबू हो गई कि कार्यक्रम स्थल कोखराज थाना क्षेत्र के किड्जी स्कूल कैंपस में पुलिस को लाठियां भाजनी पड़ी। पेट्रोल की एक बोतल को पाने के लिए कई लोगों में छीना झपटी हो रही थी।

40 किलोमीटर की थी तिरंगा यात्रा

बीजेपी विधायक संजय गुप्ता की ओर से पूर्व में ही प्रस्तावित इस तिरंगा यात्रा की तैयारियां महीनों पहले से शुरू कर दी गई थी। स्वाधीनता दिवस के मौके पर करीब 3 बजे भरवारी कस्बा स्थित किड्जी कालेज परिसर से 40 किलोमीटर लम्बी यात्रा शुरू हुई। इस यात्रा में भीड़ की कमी न हो इसके लिए पेट्रोल बोतलों में स्टॉक कर रखा गया था। जिनको लेने के लिए कार्यकर्ता अपनी जान पर खेलने के लिए अमादा हो गए।
इसे भी पढ़ें…

जब तीन लाख रुपयों से भरा बैग लेकर भागा बंदर, फिर पुलिस वालों को ऐसे नचाया नाच

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here