मुख्यमंत्री योगी के सपने को पूरा करने की मुहिम

224
  • वन विभाग ने रूकवाई अशोक के 100 साल पुराने हरे पेड़ों की कटान 

लखनऊ। मीराबाई मार्ग पर स्थित रघुबर दयाल मिश्रा की पारिवारिक बगिया में लगे सौ साल पुराने हरे पेड़ो की कटाई क्षेत्रीय फारेस्ट रेंज ऑफिसर रहमान ने रूकवा दी है। जिला वन अधिकारी के पास सम्बंधित हरे पेड़ो की कटान से जुड़ी शिकायत पहुंचते ही वन विभाग ने फौरन कार्यवाही करते हुए अशोक के दोनों हरे पेड़ो को काटने से रोक दिया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार पेड़ काटने वाले पक्ष ने सम्बंधित विवादित भूमि की कथित रजिस्ट्री के कागज वन विभाग में दिखा कर विभागीय स्वीकृति प्राप्त कर ली थी किन्तु स्वयं को इस भूमि का असली मालिक बताने वाले रघुबर दयाल मिश्रा के परिवार का कहना है कि यह पूरा क्षेत्र अविभाजित हिन्दू प्रॉपर्टी अधिनियम के अंतर्गत चिन्हित है और इसे खरीदने या बेचने का अधिकार किसी अन्य व्यक्ति को नहीं है। यह पूछे जाने पर कि अखिर विवादित जमीन की रजिस्ट्री जिलाधिकारी कार्यालय से  कैसे हो गई, मिश्रा परिवार ने दोनों पेड़ों पर हाईकोर्ट स्टे की जानकारी दी। बहरहाल इन दोनों आसमान छूते हरे  पेड़ों को काटने पर जाने पर रघुबर दयाल लेन में रहने वाले सभी नागरिक दुखी नज़र आए। एक तरफ 100 साल से पुराने पेड़ों को चिह्नित करके उन्हें पर्यावरण रक्षक का सम्मान देने की योजना योगी सरकार चला रही है, दूसरी तरफ मीराबाई मार्ग पर ही100 साल पुराने हरे अशोक के पेड़ों को काटने का परमिट वन विभाग जारी कर रहा है।

लखनऊ नगर पालिका  सोसाइटी पार्क नियमावली 1935 के अंतर्गत एक सामुदायिक पार्क के रूप में इस स्थल के पंजीकृत होने की जानकारी लखनऊ की महापौर संयुक्ता भाटिया और नगर आयुक्त को दे दी गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here