लेखपालों पर मामला दर्ज करने की मांग को लेकर भाकियू ने शुरू किया अनिश्चितकालीन धरना

213
Bhakiyu started indefinite strike demanding to register a case against the accountants
श्री वर्मा ने बताया कि समस्याओं का समाधान ना होने पर आंदोलन को बृहद बनाया जाएगा।

अयोध्या बीकापुर। भारतीय किसान यूनियन के ब्लाक अध्यक्ष रामगोपाल मौर्य को तहसील में लेखपालों द्वारा उप जिलाधिकारी के सामने मारने पीटने, लूटपाट करने के बाद भी प्रथम सूचना रिपोर्ट ना दर्ज होने के कारण आक्रोशित भारतीय किसान यूनियन कार्यकर्ताओं द्वारा गुरुवार को तहसील परिसर के शहीद स्मारक पर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर दिया गया है।

भाकियू नेताओं ने घोषणा किया है कि जब तक हमलावर लेखपालों के विरुद्ध प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं होती, लेखपाल गुलशन भारती को निलंबित नहीं किया जाता और उप जिलाधिकारी की भूमिका की जांच कर दंडित नहीं किया जाता है। तब तक आंदोलन जारी रहेगा। और समय-समय पर आंदोलन की रूपरेखा बदली जाएगी। धरनाकारियो को संबोधित करते हुए भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय सचिव घनश्याम वर्मा ने कहा कि 27 जुलाई को उप जिलाधिकारी बीकापुर केडी शर्मा के ललकारने के बाद लेखपालों ने उप जिलाधिकारी के समक्ष रामगोपाल मौर्य को भद्दी भद्दी गालियां देते हुए लात मूको से मारा पीटा।

जेब से 700 रुपए, आधार कार्ड, प्रवेश पत्र लूट लिया। तथा मोबाइल पटक कर फोड़ दिया, कपड़े फाड़ डाले और नेतागिरी करने पर जान से मार डालने की धमकी दिया गया। समय से तहरीर देने के बाद भी प्रशासनिक दबाव के कारण राम गोपाल की तहरीर पर प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज नहीं गई। जबकी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक द्वारा भी कार्रवाई का आश्वासन दिया गया था। श्री वर्मा ने बताया कि समस्याओं का समाधान ना होने पर आंदोलन को बृहद बनाया जाएगा।

जरूरत पड़ने पर महापंचायत का भी आयोजन किया जाएगा। अभयराज ब्रहमचारी, संतोष वर्मा, मुनि राम यादव, राम गणेश मौर्य, राम अवध किसान, राम गोपाल मौर्य, मस्तराम वर्मा वैजनाथ निषाद, पारसनाथ वर्मा, चंदूभाई पटेल, लीलावती, जस माता देवी, किस्मता, शुभावता रामानंद यादव घनश्याम तिवारी, शशीन्द्र नाथ तिवारी, शेषमणि तिवारी, विनोद निषाद, बवाली यादव सहित तमाम कार्यकर्ता शामिल रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here