हिमाचल प्रदेश में भूस्खलन से पुल टूटा, पर्यटकों की गाड़ी पर गिरे पत्थर, नौ लोगों की मौत

554
Landslide breaks bridge in Himachal Pradesh, stones fall on tourists' vehicle, nine dead
किन्नौर के डीसी आबिद हुसैन सादिक, एसपी एसआर राणा भी मौके पर मौजूद हैं। 

हिमाचल प्रदेश। हिमाचल प्रदेश में रविवार को बड़ा हादसा हुआ, यहां बारिश के कारण भूस्खलन हो रहा है। इस वजह से किन्नौर जिले में पहाड़ियों से गिरे पत्थर की चपेट में आने से नौ पर्यटकों की मौत हो गई। जबकि तीन लोग गंभीर रूप से घायल हैं। किन्नौर जिले में बटसेरी के गुंसा के पास चट्टानें गिरने से छितकुल से सांगला की ओर आ रही पर्यटकों की गाड़ी भूस्खलन की चपेट में आ गई। गाड़ी पर पत्थर गिरने से नौ की मौत हो गई, बकि तीन लोग घायल हैं। गाड़ी में सवार पर्यटक दिल्ली और चंडीगढ़ से हिमाचल घूमने आए थे।

हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस और प्रशासन की टीमें मौके पर पहुंच गई हैं। इस विषय में कांग्रेस विधायक जगत सिंह नेगी ने बताया कि पहाड़ी से लगातार पत्थर गिर रहे हैं जिस कारण रेस्क्यू में दिक्कत आ रही है। उन्होंने कहा कि घायलों को अस्पताल पहुंचाने के लिए सरकार से हेलीकॉप्टर मांगा गया है जिसके जल्द पहुंचने का आश्वासन मिला है। किन्नौर के डीसी आबिद हुसैन सादिक, एसपी एसआर राणा भी मौके पर मौजूद हैं। हादसे के बाद घटनास्थल पर चीख पुकार मच गई। बटसेरी के स्थानीय लोग पुलिस के साथ रेस्क्यू में जुटे हुए हैं। भूस्खलन होने से गांव के लिए बास्पा नदी पर बना करोड़ों का पुल टूट गया है जिससे गांव का संपर्क देश दुनिया से कट गया है। पत्थरों की चपेट में आने से कई पर्यटकों की गाड़ियां भी टूट गई।

वहीं राष्ट्रीय राजमार्ग 505 काजा-समदो के तहत आने वाले काजा के लारा नाले में शनिवार आधी रात को बादल फट गया। भारी बारिश के बाद नाले में बादल फटने से बाढ़ आ गई। हालांकि बादल फटने से किसी प्रकार का जानी नुकसान नहीं हुआ है। लेकिन सड़क मार्ग बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया है। जिससे यहां पर सड़क के दोनों ओर  50 से अधिक वाहन भी फंस गए हैं। रास्ता खुलने के बाद ही सभी वाहन लारा नाले से निकल पाएंगे। बादल फटने की सूचना मिलते ही बीआरओ की टीम ने सड़क बहाली का काम शुरू कर दिया है। मशीनरी लगाकर सड़क को बहाल करने की कोशिश चल रही है।बहरहाल जनजातीय क्षेत्रों में बारिश को देखते हुए प्रशासन ने पर्यटकों व स्थानीय लोगों से एहतियात बरतने की अपील की है। लोगों को नदी-नालों से दूर रहने को कहा गया है। उपायुक्त नीरज कुमार ने कहा कि बादल फटने से क्षतिग्रस्त हुई सड़क को दुरूस्त करने की कोशिश की जा रही है। वहीं पुल क्षतिग्रस्त होने से बड़ी संख्या में पर्यटक रास्ते में फंसे है।

इसे भी पढ़ें…

  1. सेंट्रल बार एसोसिएशन का परिणाम घोषित, सुनील ​अध्यक्ष तो बृजेश बने महामंत्री
  2. पागल प्रेमी ने प्रेमिका की सगाई होने के बाद पहले उसे चाकूओं से गोदा फिर रेत लिया अपना गला
  3. फिरोजाबाद में बड़ा हादसा: पोल लगाते समय हाईटेंशन का करंट लगने से तीन की मौत

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here