शराब कारोबारी ओम प्रकाश जायसवाल के घर पर दूसरे दिन भी आयकर विभाग की कार्रवाई जारी

176
Income tax department's action continues on the second day of liquor businessman Om Prakash Jaiswal
बता दें कि आयकर विभाग की टीम ने बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे ओम प्रकाश जायसवाल और उनके परिवार से जुड़े लोगों के जौनपुर के शाहगंज और वाराणसी स्थित आवासों और होटल, फैक्ट्री सहित कई प्रतिष्ठानों पर छापा मारा। सुबह आठ बजे शुरू हुई कार्रवाई अब तक जारी है।

जौनपुर। जौनपुर के बड़े कारोबारी ओमप्रकाश जायसवाल के घर पर दूसरे दिन भी आयकर विभाग की कार्रवाई जारी है। आयकर विभाग की टीम जौनपुर के शाहगंज में भाजपा नेता व शराब कारोबारी ओम प्रकाश जायसवाल के घर डेरा जमाए हुए है। आपकों बता दें कि गुरुवार सुबह से ही आयकर विभाग की टीम दस्तावेजों से कर चोरी पकड़ने का प्रयास कर रही हैं, टीम को आशंका है कि कारोबारी ने करोड़ों रुपये के टैक्स में हेराफेरी की है। रात डेढ़ बजे एक गाड़ी से ओम प्रकाश जायसवाल के भाई की पत्नी व नगर पालिका परिषद शाहगंज की अध्यक्ष गीता जायसवाल को जेसीज चौराहे स्थित मकान से फार्म हाउस पर ले गई।

इसके 10 मिनट बाद दूसरी गाड़ी से उनके भाई प्रदीप जायसवाल को फार्म हाउस पर ले जाया गया। जहां सुबह से ही जांच पड़ताल चल रही। इधर, वाराणसी से ओम प्रकाश जायसवाल के पुत्र मोहित अग्रवाल को देर रात शाहगंज लाया गया है। आयकर विभाग की टीम उनसे पूछताछ में जुटी है।बता दें कि आयकर विभाग की टीम ने बृहस्पतिवार सुबह आठ बजे ओम प्रकाश जायसवाल और उनके परिवार से जुड़े लोगों के जौनपुर के शाहगंज और वाराणसी स्थित आवासों और होटल, फैक्ट्री सहित कई प्रतिष्ठानों पर छापा मारा। सुबह आठ बजे शुरू हुई कार्रवाई अब तक जारी है। टीम ने इस दौरान लेनदेन से जुड़े कागजात के साथ ही कंप्यूटर में दर्ज रिकार्ड, बैंक खातों के लेनदेन आदि की जांच की।

टीम ने कागजात को सीज करने के साथ ही कंप्यूटर हार्ड डिस्क भी अपने कब्जे में ले लिया है।  आयकर विभाग के सूत्रों के मुताबिक आयकर रिर्टन दाखिल करने आदि की भी जांच की गई तो बड़े पैमाने पर कर चोरी का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है जिन लोगों के वहां टीम ने सर्वे किया हैं, उनके फैक्ट्री और होटल भी हैं। प्रधान आयकर आयुक्त वाराणसी सुनील माथुर के नेतृत्व में आयकर विभाग की टीम कार्रवाई कर रही है। टीम में वाराणसी, लखनऊ, प्रयागराज, आजमगढ़ सहित कुछ और जिले के अधिकारी शामिल हैं। जिनकी दो शिफ्ट में ड्यूटी लगाई गई है।करोड़ों की कर चोरी मिल सकती हैं टीम के एक अधिकारी ने नाम ने जाहिर करने की शर्त पर बताया कि शुरुआती जांच में करोड़ों की कर चोरी का मामला प्रकाश में आया है। व्यापक जांच पड़ताल के बाद ही वास्तविक स्थिति स्पष्ट हो सकेगी। उधर पूर्व चेयरमैन व उनके परिवार के लोगों से संपर्क करने की कोशिश की गई तो संपर्क नहीं हो सका।

ओमप्रकाश की है राजनीति में ऊंची पहुंच

शराब कारोबारी से नेता बने ओमप्रकाश जायसवाल ने फर्श से अर्श तक का सफर तय किया है। वह भाजपा के बड़े नेताओं में गिने जाते हैं। वहीं, उनके भाई प्रदीप जायसवाल नगर पालिका शाहगंज के मनोनीत सभासद होने के साथ ही भाजपा के नगर अध्यक्ष हैं। जबकि खुद ओम प्रकाश जायसवाल रामलीला समिति के संरक्षक हैं। इसके अलावा सरस्वती शिशु मंदिर, सरस्वती विद्या मंदिर, आरएसएस  आदि से जुड़े हैं। शराब कारोबारी के यहां आयकर के छापे से उनके समर्थकों में हड़कंप मचा हुआ है।

इसे भी पढ़ें…

  1. घर से खेलने निकले खदान में भरे पानी में डूबने से 2 बच्चों की मौत
  2. राज कुंद्रा का बचाव करते हुए गहना वशिष्ठ ने एकता कपूर को ले​कर लिया किया यह दावा
  3. शहीद शिरोमणि चंद्रशेखर आजाद, जिनके स्मरण के बिना आजादी की हर कहानी अधूरी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here