सीतापुर में बारिश की वजह से मकान गिरने से सात लोगों की मौत

185
Seven killed in house collapse due to rain in Sitapur
घटना के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने मुआयना करके पीड़ितों को हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाया है।

सीतापुर। उत्तर प्रदेश के सीतापुर में हो रही बारिश की वजह से तीन अलग-अगल जगह मकान गिरने से सात लोगों की मौत हो गई। बुधवार सुबह बारिश से एक मकान गिर गय। इससे घर में सो रहे बच्चों समेत आधा दर्जन लोग मलबे में दब गए। ग्रामीणों ने मलबे को हटाकर दबे लोगों को बाहर निकाला, इस हादसे में एक महिला और दो बच्चों समेत 4 लोगों की मौत हो गई जबकि 2 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। वहीं दूसरे स्थान पर हुई घटना में दीवार गिरने से पति-पत्नी की मलबे में दबकर मौत हो गई। घटना के बाद प्रशासनिक अधिकारियों ने मुआयना करके पीड़ितों को हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाया है।

चार लोगों की मौत से मची चीख-पुकार

बारिश की वजह से पहली घटना मानपुर थाना क्षेत्र के लक्ष्मणपुर गांव की है। यहां एक ही परिवार के आधा दर्जन लोग घर में सो रहे थे। बुधवार सुबह बारिश के चलते मकान गिरने सभी लोग दब गए। मकान गिरने सेचीखपुकार मच गई। शोर सुन ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। ग्रामीणों ने मलबे को हटाकर सभी लोगों को बाहर निकाला घर के 4 लोगों की मौत हो गई। इस हादसे में एक माह का मासूम, 8 वर्षीय शिवा पुत्र हरीश, 45 वर्षीय लल्ली पत्नी लल्लू और 28 वर्षीय शैलेन्द्र पुत्र हरीश शामिल हैं और घायलों में 12 वर्षीय शिवानी पुत्र हरीश, 20 वर्षीय सुमन पुत्री लल्लू शामिल हैं।

छप्पर गिरने से पति-पत्नी की मौत

बारिश से हुई दूसरी घटना सदरपुर थाना क्षेत्र के बिलौली गांव की है। यहां के निवासी रामलोटन अपनी पत्नी अनीता के साथ घर के बाहर छप्पर के नीचे सो रहे थे। इसी दौरान सुबह कच्ची दीवार गिरने से पति-पत्नी की मलबे ​​​में दबने से मौत हो गई। वहीं सदरपुर थाना क्षेत्र में तीसरे स्थान पर ग्राम महरिया निवासी 60 वर्षीय श्रीकृष्ण की दीवार के मलबे में दबने से मौत हो गई है।

कलेक्टर बोले -24 घंटे ​में मिलेगा मुआवजा

सीतापुर में हुई घटना की जानकारी होते ही पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने मौका मुआयना किया और पीड़ितों को हर संभव मदद दिलाने का भरोसा दिलाया। एसपी आरपीसिंह का कहना है कि पुलिस ने सभी शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजकर जिला प्रशासन को सूचना दे दी है। डीएम विशाल भारद्वाज का कहना है कि मृतकों के परिजनों को दैवीय आपदा राहत के तहत आर्थिक सहायता देने का काम आगामी 24 घंटे के अंदर किया जाएगा।

इसे भी पढ़ें…

  1. ब्राह्मणों को लुभाने बसपा खुशी दुबे को जेल से छुड़ाने लड़ेगी कानूनी लड़ाई
  2. सहेली को सहेली से प्यार: दो युवतियां शादी के लिए अड़ी, आठ घंटे चली पंचायत, नहीं मानी
  3. जौनपुर में घर से बकरी ​चराने निकले युवक की गला रेतकर हत्या, हत्यारे बेसुराग

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here