भारतीय सेना ने दो खूंखार आतंकियों को मार गिराया, कई हत्याओं के थे जिम्मेदार

148
Indian army killed two dreaded terrorists, were responsible for many killings
लश्कर-ए-तैयबा के शीर्ष आतंकवादी कमांडर इशफाक डार के साथ एक अन्य आतंकवादी माजिद इकबाल को मार गिराया गया है।

जम्मू कश्मीर।भारतीय सुरक्षा बलों ने सोमवार को खूंखार आंतकियों को मार गिराया। सुरक्षाबलों रविवार रात से ही शोपियां के च​क सादिक में आंतकियों की तलाश कर रहे थे। तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी कर दी। सुरक्षा बलों ने मोर्चा संभालते हुए दो आतंकियों को मार डाला। मारा गया एक आतंकी पिछले चार साल से सेना के लिए सिरदर्द बना हुआ था। उसने घाटी में कई आतंकी वारदाताओं को अंजाम दिया था। मारे गए आतंकी का नाम इशफाक डार उर्फ अबू अकरम था, जो लश्कर-ए -तयबा का टॉप् कमांडर था।मारे गए आतंकियों के पास से 2 एके-47 राइफल और आठ मैग्जीन मिली हैं। इस ऑपरेशन को सुरक्षाबलों की संयुक्त टीम ने अंजाम दिया है। जिसमें जम्मू-कश्मीर पुलिस(एसओजी), सीआरपीएफ और सेना शामिल है।

सुरक्षा बलों ने बताया कि लश्कर-ए-तैयबा के शीर्ष आतंकवादी कमांडर इशफाक डार के साथ एक अन्य आतंकवादी माजिद इकबाल को मार गिराया गया है। अबू अकरम पुलिस कर्मियों और नागरिकों पर हमलों एवं हत्या सहित कई आतंकी अपराधों के मामलों के लिए जिम्मेदार था बता दें कि यह मुठभेड़ रविवार को शुरू हुई थी। जिसमें आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के एक टॉप कमांडर समेत दो आतंकियों के घिरे होने की सूचना मिली थी।। सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेरकर तलाशी अभियान शुरू किया।

तलाशी अभियान के दौरान आतंकियों की ओर से पहली गोली चलाई गई। इसके बाद जवानों ने मोर्चा संभाला। सबसे पहले आतंकियों को आत्मसमर्पण करने का मौका भी दिया गया। जिसे नकारते हुए आतंकी अंधाधुंध गोलाबारी करते रहे। इसके साथ ही अंधेरे का फायदा उठाकर भागने की कोशिश की।आतंकियों को रोकने के लिए की गई जवाबी फायरिंग के साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गई। कुछ समय बाद ही दोनों आतंकी सुरक्षाबलों की गोलियों का निशाना बने। अबू अकरम का मारा जाना सुरक्षाबलों के लिए बड़ी सफलता है। क्योंकि दक्षिणी कश्मीर में वह आतंकी हमलों को अंजाम देने के साथ ही वहां के युवाओं को आतंक का दामन थामने के लिए गुमराह करता था, इसके लिए कई प्रकार के लालच भी देता था। आपकों बता दें ​कि सुरक्षाबल इस माह औसतन राोज एक आतंकी को मौत की नींद सुला रहे हे।

इसे भी पढ़ें…

  1. यूपीपीएससी 2019 और 2020 का कटऑफ जारी, वेबसाइट पर ऐसे चेक करें परिणाम
  2. करंट लगने से तड़प रहे पिता को बचाने दौड़े दो बेटों की भी बिजली लगने से मौत
  3. गृहक्लेश के बाद मां ने बेटे-बेटी की हत्या के बाद लटक गई फांसी पर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here