मिशन 2022: कांग्रेस में जान फूंकने यूपी की राजधानी आ रही प्रियंका गांधी, होगा भव्य स्वागत

168
Mission 2022: Priyanka Gandhi is coming to Lucknow today to revive the Congress, there will be a grand welcome
विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए प्रियंका के इस दौरे को अहम माना जा रहा है।

लखनऊ। देश की सबसे पुरानी राजनीतिक पार्टी कांग्रेस अपने अस्तीत्व की लड़ाई लड़ रही है। प्रदेश में तो संगठन मृत प्राय हो गया था, लेकिन कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी की मेहनत से कांग्रेस प्रदेश में फिर खड़ी होती नजर आ रही है। जिस तरह से प्रदेश अध्यक्ष लल्लू सिंह और उनकी टीम लगातार मैदान में काम कर रही उन सबके पीछे प्रियंका गांधी का हाथ है। कांग्रेसियों में जोश भरने प्रियंका गांधी डेढ़ साल बाद प्रदेश की राजधानी लखनऊ पहुंच रही है। विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए प्रियंका के इस दौरे को अहम माना जा रहा है। लखनऊ में गोखले मार्ग स्थित कौल हाउस में प्रियंका 2 दिन रहेंगी। इस दौरान उनका जिले से लेकर प्रदेश स्तर तक के पदाधिकारियों के साथ मुलाकात और बैठक का कार्यक्रम है।

लोकसभा चुनाव से पहले लखनऊ आई थीं प्रियंका

आपकों बता दें कि इससे पहले कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी लोकसभा चुनाव से पहले लखनऊ आई थी। उस बार भी प्रियंका का भव्य स्वागत हुआ था, इस बार भी प्रियंका के स्वागत के लिए जगह—जगह बैनर पोस्टर लगाए गए है। प्रियंका के आगमन को लेकर प्रदेश मुख्यालय को दुल्हन की तरह सजाया गया है।एयरपोर्ट से लेकर पार्टी मुख्यालय तक करीब 28 जगह कांग्रेसी उनका स्वागत करेंगे। प्रियंका दिल्ली से दोपहर 12:00 बजे अमौसी एयरपोर्ट पहुंचेंगी। प्रियंका गांधी लखनऊ पहुंचने के बाद प्रदेश मुख्यालय में 2:30 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करेंगी। इससे पहले 27 दिसंबर 2019 को लखनऊ आई थीं।

प्रियंका अपने निजी आवास में रुकेंगी, पास से होंगी एंट्री

लखनऊ के वीवीआईपी इलाके गोखले मार्ग का 23/2 मकान ‘कौल हाउस’ कहलाता है जो कि प्रियंका गांधी की दादी और देश की पूर्व पीएम इंदिरा गांधी की मामी शीला कौल का घर है। लखनऊ में अपने प्रवास के दौरान प्रियंका प्रयागराज नारायण रोड स्थित निजी आवास में रुकेंगी। यह आवास उनके रिश्तेदार और पूर्व केंद्रीय मंत्री शीला कौल का है। कांग्रेस नेत्री के प्रवास के मद्देनजर सुरक्षा व्यवस्था के कड़े इंतजाम किए गए हैं। कांग्रेस मुख्यालय में उनकी मौजूदगी के दौरान पार्टी के स्तर से जारी किए गए पास के आधार पर ही प्रवेश की अनुमति होंगी। मालूम हो कि प्रियंका से पूर्व गांधी परिवार का जो भी सदस्य लखनऊ आता है वह भी यहीं रूकता था। आपकों बता दें कि प्रियंका गांधी में कांग्रेसियों को इंदिरा जी जैसी नेतृत्व क्षमता दिखती है।इसलिए समय —समय पर उन्हें कांग्रेस की बागडौर देने की मांग उठती रहती है। अब विधानसभा चुनाव 2022 में प्रियंका कितना कमाल कर पाती है यह तो समय के गर्त में छीपा है, लेकिन जिस तरह से कांग्रेस को युवा चेहरों के बल पर खड़ा कर रही है वह काबिले तारिफ है।

इसे भी पढ़ें…

पीएम मोदी ने 15 सौ करोड़ की योजनाओं का किया लोकार्पण, योगी सरकार के काम को सराहा

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here