जिला पंचायत के बाद ब्लॉक प्रमुख पद पर भाजपा ने मारी बाजी, देखती रह गई सपा

388
After District Panchayat, BJP won the post of Block Chief, SP kept watching
825 पद में से निर्विरोध निर्वाचित 349 में 334 पद पर पहले ही कब्जा किया है

लखनऊ। यूपी में भाजपा लगातार अच्छा प्रर्दशन कर रही है। भले ही चुनावों में सपा ने बाजी मारी हो, लेकिन जिला पंचायत अध्यक्ष के बाद ब्लॉक प्रमुख के चुनाव में भाजपा ने एक बार फिर सपा को तगड़ी शिकस्त दी। जिला पंचायत के 67 सीटों पर कब्जा जमाने के बाद476 ब्लाक के लिए आज सम्पन्न मतदान में बेहतरीन प्रदर्शन किया। भाजपा ने ब्लाक प्रमुख के कुल 825 पद में से निर्विरोध निर्वाचित 349 में 334 पद पर पहले ही कब्जा किया है और आज मतदान के बाद भी बाजी अपने हाथ में कर ली है।

मतदान खत्म होने के बाद दोपहर तीन बजे के बाद परिणाम आने शुरू हो गए। जैसे—जैसे परिणाम आने लगे वैसे—वैसे ब्लॉक में बनने वाली सरकार में कमल खिलता गया। बात करें प्रदेश की राजधानी लखनऊ की 10 सीटों में से भाजपा ने 3 और सपा ने पांच जीती हैं। लखनऊ समेत 26 जिलों में 202 सीटों पर बीजेपी प्रत्याशियों ने जीत हासिल की, जबकि सपा महज 30 सीटों पर जीत पाई है। सपा से आगे निकलते हुए 37 पर ही निर्दलीय जीते हैं।

इटावा में पुलिस और भाजपाइयों के बीच जमकर भिड़ंत हुई है। इटावा में पुलिस अधिकारियों के साथ धक्का-मुक्की की गई। एसपी सिटी को थप्पड़ मार दिया है। वहीं, लखनऊ, प्रतापगढ़, हमीरपुर, सिद्धार्थनगर, अमरोहा, रायबरेली, फिरोजाबाद, कानपुर, एटा, पीलीभीत, महोबा, बाराबंकी, चंदौली समेत 15 जिलों में गोलीबारी, पथराव, उपद्रव और मारपीट हुई है।कुल 825 पदों में से 476 पदों के लिए दोपहर 3 बजे तक वोट डाले गए। इससे पहले शुक्रवार को नाम वापसी के बाद 349 ब्लॉक प्रमुख को निर्विरोध चुन लिया गया है। इनमें 334 से ज्यादा भाजपा के प्रत्याशी हैं। वोटिंग को शांति पूर्ण तरीके से निपटाने के लिए पुलिस और प्रशासन अलर्ट है। मतदान और मतगणना केंद्रों में बिना चेकिंग किसी को एंट्री नहीं मिलेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here