12वीं के बाद मीडिया एक बेहतर करियर ऑप्शन

431
प्रतीकात्मक चित्र

कोरोना महामारी ने देश की अर्थव्यवस्था के साथ-साथ शिक्षा व्यवस्था को भी प्रभावित किया है, छात्र अपने भविष्य को लेकर चिंतित है कोरोना वायरस महामारी ने मानों उनके  सपनों को विराम लगा दिया हो। एक सर्वे के अनुसार 12वीं के बाद ज्यादातर छात्र करियर को लेकर भ्रमित रहते हैं, क्योंकि 12 वीं के बाद चुना गया कोर्स आपका पूरा भविष्य तय करता है। छात्रों को अगर सही गाइडेन्स मिले तो वे अपने भविष्य को संवार सकते हैं लेकिन यह छात्रों की रुचि पर भी निर्भर करता है। छात्रों को अपने रूचि के अनुसार ही कोर्सेस को चुनना चाहिए ताकि वे उसमें अपना करियर बना सके और सफल हो  सकें, 12 वीं के बाद करियर को लेकर फैसला लेना थोड़ा मुश्किल जरूर है लेकिन अगर इसे सोच-समझकर लिया जाए तो आपका भविष्य संवर सकता है। 12वीं के बाद छात्रों के बीच इंजीनियरिंग और मेडिकल में करियर बनाना काफी लोकप्रिय है, लेकिन इनके अलावा और भी बहुत ऐसे विकल्प हैं, जिसमें आप एक बेहतर भविष्य बना सकते हैं।

हम आपको इस लेख के जरिए पत्रकारिता यानी मास कम्यूनिकेशन कोर्स के बारे में बता रहे हैं। जिससे आपको अपनी रूचि के मुताबिक कोर्स का चयन करने में आसानी होगी।

पत्रकारिता एवं मास कम्यूनिकेशन

मीडिया आज हमारे जीवन का अभिन्न अंग हो गया हैं। पत्रकारिता के क्षेत्र में भी 12वीं के बाद करियर बनाया जा सकता है। सिर्फ आर्ट्स ही नहीं बल्कि दूसरे स्ट्रीम के छात्र भी इस क्षेत्र में भविष्य बना सकते हैं। पत्रकारिता एवं मास कम्यूनिकेशन समय के साथ काफी बदल चुका है। नई-नई तकनीकों के कारण अब पत्रकारिता के कई प्लेटफॉर्म देखने को मिल रहे हैं। प्रिंट, रेडियो और टीवी के बाद पत्रकारिता का भविष्य वेब पर आ गया है। अगर आप की दिलचस्पी देश दुनिया में घट रही घटनाओं को लिखने में है तो आप इस फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं।

उत्तर प्रदेश में कई विश्वविद्यालय और शिक्षण संस्थान पत्रकारिता से संबंधित कोर्स करवा रहे हैं। हिंदी और अंग्रेज़ी दोनों ही भाषाओं में ये कोर्स करवाया जा रहा है। इस कोर्स को करने के बाद किसी भी न्यूज़ चैनल, पत्र-पत्रिकाओं, अखबारों, न्यूज़ एजेंसी, मीडिया हाऊस में नौकरी की सकती है। डॉ. राम मनोहर लोहिए अवध विश्वविद्यालय अयोध्या के जनसंचार एवं पत्रकारिता विभाग के समन्यवक एवं मीडिया प्रभारी डॉ.विजयेंदु चतुर्वेदी बताते है कि वैश्विक महामारी कोरोना काल के दौरान चिकित्सा और मीडिया ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है लेकिन इस बीच कुछ अप्रशिक्षित पत्रकारों की रिपोर्टिंग ने लोगों को दुखी भी किया है ।मीडिया में पेशेवर और प्रशिक्षित पत्रकारों की मांग बढ़ रही है, आने वाला दौर मीडिया और चिकित्सा का ही है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here